दक्षिण अफ्रीका ने भारत को तीसरे टी-20 में 9 विकेट से हराया

> कप्तान डी कॉक ने खेली मैच विजयी पारी।


> भारतीय टीम को पूरे 20 ओवर तक करना पड़ा संघर्ष


> तेज गेंदबाज कैगिसो रबादा ने चार ओवर में 39 रन देकर 3 विकेट झटके



बेंगलुरु दक्षिण अफ्रीका ने अपने गेंदबाजों के सटीक और सधे हुए प्रदर्शन के बाद कप्तान किटन डी कॉक (नाबाद 79) के आक्रामक अर्धशतक के दम पर भारत को तीसरे और अंतिम टुंटी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में रविवार को नौ विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज 1-1 से ड्रा करा ली। सीरीज का पहला मैच धर्मशाला में बारिश से धुल गया था जबकि भारत ने मोहाली में दूसरा मैच आसानी से जीत लिया था। तीसरे मैच में मेहमान टीम ने जवाबी प्रहार करते हुए सीरीज बराबरी पर समाप्त की। दक्षिण अफ्रीका ने भारत को नौ विकेट पर 134 रन के मामूली स्कोर पर रोकने के बाद 16.5 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 140 रन बनाकर आसान जीत हासिल कर ली। कप्तान डी कॉक ने 52 गेंदों पर छह चौके और पांच छक्के उड़ाते हुए नाबाद 79 रन की मैच विजयी पारी खेली। विराट ने जो काम मोहाली में भारत के लिए किया था वही काम डी कॉक ने बेंगलुरु में दक्षिण अफ्रीका के लिए किया। डी कॉक और रीजा हेंड्रिक्स ने पहले विकेट के लिए 10.1 ओवर में 76 रन जोड़कर दक्षिण अफ्रीका का काम आसान कर दिया। हेंड्रिक्स को हार्दिक पांड्या ने विराट के हाथों कैच कराया। हेंडिक्स ने 26 गेंदों पर 28 रन में चार चौके लगाए। डी कॉक ने फिर तेम्बा बावमा के साथ टीम को जीत की मंजिल पर पहुंचा दिया। डी कॉक 79 रन पर नाबाद रहे जबकि बावुमा ने 23 गेंदों पर नाबाद 27 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया। बाउमा ने क्रुणाल पांड्या पर विजयी छक्का मारा। भारत के लिए विराट का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला उल्टा पड़ा।इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को पूरे 20 ओवर तक संघर्ष करना पड़ा और टीम नौ विकेट पर 134 रन ही बना सकी। बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन 36, ऋषभ पंत 19, हार्दिक पांड्या 14 और रवींद्र जडेजा 19 रन ही बना सके। अन्य कोई बल्लेबाज दहाई की संख्या में नहीं पहुंच सका। उपकप्तान और रोहित शर्मा तथा कप्तान विराट कोहली 9-9 रन बनाकर आउट हो गए। श्रेयस अय्यर पांच, क्रुणाल पांड्या चार और वाशिंगटन सुन्दर चार रन ही बना सके। शिखरने 25 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के लगाए। पंत ने 20 गेंदों में एक चौका और एक छक्का लगाया। हार्दिक 18 गेंदों पर एक चौका ही लगा पाए। जडेजा ने 17 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का मारा। रोहित ने आठ गेंदों पर दो चौके लगाए। मोहाली में पिछले मैच में नाबाद अर्धशतकीय पारी से मैन ऑफ द मैच बने कप्तान विराट इस बार 15 गेंदों में नौ रन ही बना सके। भारतीय पारी में एकमात्र बड़ी साझेदारी दूसरे विकेट के लिए हुई जिसमें शिखर और विराट ने 41 रन जोड़े। हार्दिक और जडेजा ने सातवें विकेट के लिए 29 रन जोड़े। भारत ने एक विकेट पर 66 रन की सुखद स्थिति से 35 रन के अंतराल में पांच विकेट गंवाए और उसका स्कोर छह विकेट पर 98 रन हो गया। इसके बाद हार्दिक और जडेजा ने संघर्ष करते हुए टीम के स्कोर को सम्मानजनक स्थिति तक पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका ने बेहतरीन गेंदबाजी का नमूना पेश करते हुए भारतीय बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का कोई मौका नहीं दिया। तेज गेंदबाज कैगिसो रबादा ने चार ओवर में 39 रन दिए लेकिन तीन विकेट भी झटक लिए। ब्योर्न फॉन ने 19 रन देकर दो विकेट और ब्यूरन हेंड्रिक्स ने चार ओवर में मात्र 14 रन देकर दो विकेट झटके। उपकप्तान रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टी-20 मुकाबले में रविवार को उतरने के साथ ही महेंद्र सिंह धोनी के भारत की तरफ से सर्वाधिक 98 टी-20 मैच खेलने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। रोहित और धोनी के अब 98-98 मैच हो गए हैं। इनके बाद सुरेश रैना (78), कप्तान विराट कोहली (72), युवराज सिंह (58) और शिखर धवन (55) का नंबर है।