डॉ जितेंद्र सिंह के निर्देश पर जम्मू में बीएसएफ कर्मियों के लिए पेंशन कार्यशाला का आयोजन


जम्मू। कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन राज्यमंत्री और पेंशन मंत्रालय के पेंशन और पेंशनर्स कल्याण विभाग ने जम्मू स्थित फ्रंटियर कार्यालय में पेंशनरों के पोर्टल पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के लिए एक विशेष कार्यशाला का आयोजन करने के लिए बुधवार को अधिकारियों की एक टीम वहां भेजी हैइस कार्यशाला में बीएसएफ के सभी रैंकों के 100 से अधिक पदाधिकारियों ने भाग लिया। इस कार्यशाला में पेंशन की प्रक्रिया के उद्देश्य से केन्द्र सरकार के कर्मचारियों के लिए आवश्यक प्लेटफॉर्म भविष्य सॉफ्टवेयर के बारे में विस्तार से विचार विमर्श किया गया। बीएसएफ कर्मियों के पेंशन संबंधी कार्यो में लगे कर्मचारियों को इस प्रणाली की कार्यक्षमता के बारे में शिक्षित किया गया ताकि वे सहज रूप से पेंशन संबंधी कार्य कर सकेंकर्मचारियों को डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के बारे में भी प्रशिक्षित किया गया कि इस प्रमाण पत्र को आराम से अपने घर से भी डिजिटली रूप से किस प्रकार भेजा जा सकता है। विचार के अन्य क्षेत्रों में अनुभव और संकल्प जैसी योजनाएं शामिल रही। इस कार्यशाला में बड़ी संख्या में भागीदारी रही। कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने अभी हाल में पेंशन विभाग की समीक्षा बैठक में विभाग के अधिकारियों को यह निर्देश दिया था कि जम्मू में विभाग के अधिकारियों का एक दल भेजा जाए। उन्होंने पेंशन विभाग में अधिकारियों में पेंशन और भविष्य पोर्टल के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए कहा था। इस आदेश के अनुपालन में पेंशन विभाग के अधिकारियों ने आज जम्मू का दौरा किया। बीएसएफ मुख्यालय नई दिल्ली में डीआईजी, एनएनएन दुबे, फ्रंटियर बीएसएफ जम्मू में डीआईजी, हरदीप सिंह भी इस कार्यशाला में शामिल हुए।