पहली साइकिल पोलो लीग का आयोजन 25 नवम्बर से जयपुर में


नयी दिल्ली। पहली साइकिल पोलो लीग का आयोजन 25 से 29 नवम्बर तक जयपुर के राज थान पोलो क्लब ग्राउंड में किया जाएगा जिसमें भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों सहित कुल पांच टीमें हिस्सा लेंगी। भारतीय साइकिल पोलो महासंघ के अध्यक्ष रघुवेन्द्र सिंह डंडलोद ने शनिवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुए बताया कि इस लीग में 40 भारतीय और 10 अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी भाग लेंगे जिन्हें 10-10 के ग्रुप में बांटा जाएगा। इस तरह लीग में कुल 5 टीमें हिस्सा लेंगी। लीग का उद्देश्य खिलाड़ियों को आर्थिक सुरक्षा भी प्रदान करना है। डंडलोद ने बताया कि हर टीम में खिलाड़ियों के ए और बी वर्गों से शीर्ष दो-दो खिलाड़ियों को रखा जाएगा ताकि टीमों में एक समान स्तर सुनिश्चित हो सके। साइकिल पोलो एक टीम गेम है और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि पांचों टीमों का स्तर बराबर का हो। लीग में मैच साढ़े सात मिनट के चार चक्कर के होंगे। उन्होंने बताया कि लीग की विजेता टीम को दो लाख रुपये और उपविजेता टीम को एक लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा अन्य वर्गों में विजेता टीम को 20 हजार रुपये का नगद पुरस्कार दिया जाएगा। लीग में हर मैच के बाद विजेता टीम, टॉप स्कोरर, बेहतरीन गोल स्कोरर और मैन ऑफ द मैच खिलाड़ी को नगद पुरस्कार दिया जाएगा। इस अवसर पर भारतीय साइकिल पोलो महासंघ के वेटरन अधिकारियों और खिलाड़ियों का सम्मान किया जाएगा। लीग के सफल आयोजन के लिए भारतीय साइकिल पोलो महासंघ के मान्यता प्राप्त सदस्य भारतीय वायुसेना, सेना तथा सभी राज्यों संघों का समर्थन प्राप्त हो रहा है। साइकिल पोलो की शुरुआत 1891 में आयरलैंड में हुई थी और 1908 के ओलम्पिक में इसका प्रदर्शनी मैच भी रखा गया थाभारत में साइकिल पोलो का उद्भव हॉर्स पोलो से हुआ। भारतीय साइकिल पोलो महासंघ की थापना 1966 में की गयी थी। इस वर्ष 13वीं विश्व साइकिल पोलो प्रतियोगिता का आयोजन 10-14 दिसम्बर तक अर्जेंटीना में होगा जिसमें भारतीय टीम भी हिस्सा लेगी।