रजत विजेता पहलवान दीपक पुनिया और कांस्य विजेता पहलवान रवि कुमार का स्वदेश लौटने पर हुआ भव्य स्वागत


नयी दिल्ली। विश्व कुश्ती प्रतियोगिता के रजत पदक पहलवान विजेता दीपक पुनिया और कांस्य पदक विजेता पहलवान रवि कुमार का स्वदेश लौटने पर भव्य स्वागत किया गया। दीपक और रवि अपने गुरु महाबली सतपाल के साथ कल देर रात स्वदेश लौटे और हवाई अड्डे पर उनका ढोल नगाड़ों की गूंज के साथ स्वागत किया गया। दोनों पहलवानों और उनके गुरु सतपाल के स्वागत के लिए हवाई अड्डे पर लगभग पांच से छह हजार लोग मौजूद थे। इनमें दीपक के गांव छारा और रवि के गांव नाहरी के लोग शामिल थे। हवाई अड्डे पर ढोल नगाड़े बजाये गए, मिठाइयां बांटी गयीं और दीपक, रवि तथा पद्मभूषण सतपाल को फूल मालाओं से लाद दिया गया। इन पहलवानों का फिर छत्रसाल स्टेडियम पहुंचने पर स्वागत किया गया। दोनों पहलवान इसी अखाड़े में महाबली सतपाल के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग करते हैं। दो बार के ओलम्पिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार और अन्य कोचों ने पहलवानों का स्टेडियम में स्वागत किया और उन्हें आशीर्वाद दिया। कजाखिस्तान के नूर सुल्तान में हुई विश्व प्रतियोगिता में दीपक ने 86 किग्रा फ्रीस्टाइल ओलंपिक वजन वर्ग में रजत और रवि कुमार ने 57 किग्रा फ्रीस्टाइल में कांस्य पदक जीतने के साथ 2020 टोक्यो ओलम्पिक का कोटा भी हासिल किया।