रेल मंत्रालय ने भर्ती परीक्षाओं की क्षमता का आकलन करने के लिए प्रस्तुति सत्र का किया आयोजन


रेल मंत्रालय के रेलवे भर्ती नियंत्रण बोर्ड ने रेलवे में बड़े पैमाने पर भर्ती परीक्षा आयोजित करने की क्षमता का आकलन करने के लिए परीक्षा आयोजित करने वाली प्रमुख एजेंसियों (ईसीए) के साथ एक प्रस्तुति सत्र का आयोजन कियाभारतीय रेलवे सबसे बड़ा नियोक्ता है। इसने डेढ़ लाख से अधिक लोगों को रोजगार दिया है और लगभग इतनी ही संख्या में लोगों को रोजगार देने का काम चल रहा है। रेलवे भर्ती परीक्षाओं में लाखों और इससे भी अधिक संख्या में आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। पिछले साल, ऐसी एक परीक्षा में लगभग 1.89 करोड़ उम्मीदवारों ने आवेदन किया था, जो एक रिकॉर्ड है। इस तरह बड़े पैमाने पर परीक्षाएं सफलतापूर्वक आयोजित करना एक चिंता एक बड़ी चुनौती है। इसलिए परीक्षा संचालन एजेंसियों का चयन उनकी साख और क्षमताओं की गहन जांच के बाद किया जाता है। ऐसी एजेंसियों के चयन का आधार बढ़ाने के लिए भारतीय रेलवे ने परीक्षा संचालन एजेंसियों के साथ एक प्रस्तुति सत्र का आयोजन किया, जिसके लिए अधिसूचना एक सप्ताह पहले जारी की गई थी। पूरे देश की एजेंसियों ने इसमें भाग लिया। प्रस्तुति के बाद रेलवे भर्ती बोर्ड के चेयरमैन के साथ एक वार्ता सत्र का आयोजन किया गया। बातचीत के आधार पर, रेलवे को गैर-तकनीकी लोकप्रिय श्रेणियों और विविध श्रेणियों की आने वाले महीनों में आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं के आयोजन के लिए परीक्षा संचालन एजेंसी के चयन के लिए निविदा जारी करने की उम्मीद है।