रेलवे बोर्ड ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये जोनल रेलवे के जीएम,डीआरएम के साथ उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की

→ 3 महीनों में 534 एमएलसी (मैन्ड लेवल क्रॉसिंग्स) को किया गया समाप्त।


→ 4,926 स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई सुविधा कराई गई उपलब्ध।


→ रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने महाप्रबंधकों को सुरक्षा से संबंधित परियोजनाओं की कड़ी निगरानी के लिए निर्देश दिए।



नई दिल्ली। रेल राज्य मंत्री सुरेश सी अंगड़ी, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने रेलवे बोर्ड के सदस्यों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिये अगस्त तक के कार्य निष्पादन के बारे में जोनल रेलवे/ उत्पादन इकाइयों के सभी महाप्रबंधकों (जीएम) और मंडलीय रेलवे प्रबंधकों (डीआरएम) के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में सुरक्षा, समय की पाबंदी, माल का लदान, यात्री यातायात, अवसंरचना से संबंधित परियोजनाएं, इंजन और डिबबों का निर्माण तथा वर्तमान में जारी भारतीय रेलवे की विकास संबंधी परियोजनाओं पर चर्चा की गई। रेल राजय मंत्री सुरेश अंगड़ी ने अगस्त, 2019 में जोन और मंडलों के उत्कृष्ट कार्य निष्पादन के लिए सराहना की और सुरक्षा, समय की पाबंदी, स्टेशनों और रेलगाडियों की स्वच्छता एवं रखरखाव तथा यात्रियों की सहूलियत में सुधार लाने की दिशा में कार्य करने के निर्देश दिए ताकि जनता की अपेक्षाओं को पूरा किया जा सकेश्री अंगड़ी ने इस बात पर जोर दिया कि भारतीय रेल के सभी अधिकारी एक टीम के रूप में कार्य करें ताकि भारतीय रेल और देश की प्रगति के लिए निर्धारित लक्ष्यों और उद्देशयों को समयबद्ध रूप से पूरा किया जा सके।



चाल वर्ष में जोनल रेलवे के कार्य निषपादन संबंधी विवरण की समीक्षा करते हए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने महाप्रबंधकों से रेलगाडियों के परिचालन में सुरक्षा सुनिश्चित करने से संबंधित परियोजनाओं की बारीकी से निगरानी करने के निर्देश दिए। श्री यादव ने सुरक्षा से संबंधित कार्यों जैसे रोड ओवर ब्रिज (आरओबी)/ रोड अंडर ब्रिज (आरयूबी), हैवी मैन्ड लेवल क्रॉसिंग्स की इंटरलॉकिंग, पुरानी मैकेनिकल सिग्नलिंग को इलेक्ट्रॉनिक सिग्नलिंग से बदलने के कार्य आदि को तेजी से पूरा किए जाने पर बल दिया। श्री यादव ने मैन्ड लेवल क्रॉसिंग्स (एमएलसी) को हटाने के कार्य में हो रही अच्छी प्रगति के लिए क्षेत्रों को बधाई दी, जो सुरक्षास्थति में सुधार लाने की दिशा में प्रमुख पहल है। अप्रैल-अगस्त 2019 के बीच 534 एमएलसी को समाप्त किया गया जबकि पिछले साल इसी अवधि में 167 एमएलसी को समाप्त किया गया था। श्री यादव ने मेल/एक्सप्रेस रेल गाड़ियों में समय की पाबंदी में महत्वपूर्ण सुधार लाने के लिए अधिकारियों की सराहना की। मेल/एक्सप्रेस रेल गाडियों में समय की पाबंदी का स्तर पिछले साल के 67 प्रतिशत की तुलना में 74 प्रतिशत तक पहुंच चुका है। इसके अलावा प्रति ट्रेन नुकसान समय में भी काफी कमी आई है। श्री यादव ने 4,926 स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई उपलब्ध कराने के लिए रेलटेल और मंडलों की भी सराहना की। बैठक में जोन और मंडलों को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह के संबंध में सभी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिएइस दिशा में उठाए जा रहे विभिन्न कदमों में रेलवे परिसरों से एक बार इसतेमाल होने वाले पलास्टिक का उनमूलन, बॉटल क्रशिंग मशीनों के प्रावधान, स्टेशनों, रेल गाडियों और रेल परिसरों की सफाई, पौध रोपण तथा 150 ट्रैक साइड नर्सरियों का विकास शामिल है।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद