वो जो मुश्किलों का अम्बार है, वही मेरे हौसलों की मिनार है: नरेन्द्र मोदी

> प्रधानमंत्री मोदी ने अमरीका के ह्यूस्टन टेक्सस में हाउडी मोदी कार्यक्रम को किया सम्बोधित।


> प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ग्लोबल गोलकीपर गोल्स अवार्ड 2019 से किया गया सम्मानित


> यूस्टन को मिलेगा गाँधी संग्रहालय के रूप में बेशकीमती सांस्कृतिक स्थल, सिद्धि विनायक मंदिर की भी मोदी ने की घोषणा


> प्रधानमंत्री संयुक्त राष्ट्र आम सभा के 74वें सत्र में अहम् मुद्दों पर चर्चा करेंगे


> आज न्यू यॉर्क में होगी संयुक्त राष्ट्र आम सभा में क्लाइमेट एक्शन समिट पर चर्चा



ह्यूस्टन, टेक्सस। पीएम मोदी 21 से 27 सितंबर तक संयुक्त राज्य अमेरिका के दौरे पर हैं। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74 वें सत्र के उच्च स्तरीय खंड में भाग लेने के लिए हयूस्टन के बाद पीएम न्यूयॉर्क का दौरा करेंगे। यूस्टन में, पीएम मोदी ने रविवार सुबह भारत-अमेरिका ऊर्जा साझेदारी को बढ़ाने के उद्देश्य से अमेरिका में प्रमुख ऊर्जा कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ बातचीत कीऊर्जा पारस्परिक रूप से लाभप्रद सहयोग के एक नए क्षेत्र के रूप में उभरी है और तेजी से भारत अमरीका द्विपक्षीय संबंधों का एक महत्वपूर्ण पहलू बन रही है। ह्यूस्टन में, पीएम ने सबसे पहले सिख समुदाय के प्रतिनिधियों से मिले, फिर पी एम दवूदी बोहरा समुदाय से मिले जहाँ उनकी इंदौर की पूर्व यात्रा में सय्यदना साहिब के दवूदी बोहरा समाज के साथ भेंट को दोहराता है। पीएम ने फिर कश्मीरी पंडित समुदाय से भी मिले। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अमरीकी समय के हिसाब से करीब 12 बजे एनआरजी स्टेडियम पहुँचे जो की पूरी तरह से पैक्ड था और प्रधानमंत्री के पदार्पण का इंतज़ार कर रहा था. चरों तरफ मोदी मोदी मोदी की ही गूंज सुनाई दे रही थी। पी एम मोदी के आगमन पर शोर दोगुना हो गया। प्रधानमंत्री के स्वागत पर मानो पूरा अमरीका हे तालियाँ बजा रहा था। पी एम ने लोक सभा चुनाव 2019 के जनादेश, सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास, वेलफेयर स्कीम्स, धरा 370, जम्मू कश्मीर आर्थिक स्वावलम्बन, आतंकवाद पर द्वि पक्षीय सहमति आदि मुद्दों पर प्रवासी भारतियों को सम्बोधित कियाविविध क्षेत्रों में अमरीका की सफलता, जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में अमेरिका में उनका योगदान, भारत के साथ मजबूत बंधन हमारे दो लोकतंत्रों के बीच एक जीवित पुल के रूप में उनकी भूमिका हमारे लिए गर्व का स्रोत है। यह भारतीय प्रवासी के लिए बहुत सम्मान की बात है और पीएम मोदी के लिए खुशी की कि संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति श्री डोनाल्ड ट्रम्प अपनी उपस्थिति के साथ इस अवसर पर पीएम के साथ रहेसमुदाय को संबोधित करने में भी राष्ट्रपति ट्रम्प ने उनका साथ दिया। यह एक भारतीय सामुदायिक कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति की पी एम मोदी के साथ पहली उपस्थिति थी। यह कार्यक्रम भारत की आउटरीच में एक नया मील का पत्थर साबित होगा। यूस्टन में रहते हुए, पीएम भारतीय-अमेरिकी समुदाय के विभिन्न समूहों और उनके निर्वाचित प्रतिनिधियों से भी मिले। उन्होंने भारतीय समुदाय को सम्बोधित करते हुए घोषणा की कि ह्यूस्टन में एक गाँधी संग्रहालय बनाया जाएगा जो कि एक बेशकीमती सांस्कृतिक स्थल होगा साथ साथ यूस्टन को एक सिद्धि विनायक मंदिर भी जल्द मिलने वाला है। न्यूयॉर्क में, पीएम संयुक्त राष्ट्र में विभिन्न प्रमुख कार्यक्रमों में भाग लेंगे। 1945 में संयुक्त राष्ट के संस्थापक सदस्य के रूप में अपनी भागीदारी के बाद से, भारत ने शांति और सुरक्षा को आगे बढ़ाने और दुनिया में व्यापकसमावेशी आर्थिक विकास और विकास को बढ़ावा देने के लिए बहुपक्षवाद के प्रति अटूट प्रतिबद्धता दिखाई है। इस वर्ष, संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74 वें सत्र में "गरीबी उन्मूलन, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, जलवायु कार्रवाई और समावेश" के लिए बहुपक्षीय प्रयासों को हाईलाइट करेंगे। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के लिए कई दबाव चुनौतियां हैं - अभी भी एक नाजुक वैश्विक अर्थव्यवस्था, दुनिया के कई हिस्सों में अशांति और तनाव, आतंकवाद का विकास और प्रसार, जलवायु परिवर्तन और गरीबी की स्थानिक वैश्विक चुनौती। उन्हें मजबूत वैश्विक प्रतिबद्धता और बहुपक्षीय कार्रवाई की आवश्यकता है। पीएम सुधारित बहुपक्षवाद के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दोहराएंगे, जो उत्तरदायी, प्रभावी और समावेशी है, और जिसमें भारत उसकी उचित भूमिका निभाता है। संयुक्त राष्ट्र के कार्यक्रमों में अपनी भागीदारी के माध्यम से, पीएम सतत विकास लक्ष्यों को साकार करने में अपनी सफलता दिखाएंगे। 23 सितंबर को क्लाइमेट एक्शन समिट में, पीएम वैश्विक लक्ष्यों और हमारी अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं के अनुरूप जलवायु परिवर्तन को संबोधित करने के लिए भारत की मजबूत कार्रवाई पर प्रकाश डालेंगे। यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज पर संयुक्त राष्ट्र के कार्यक्रम में, इसी तरह, मोदी आयुष्मान भारत कार्यक्रम सहित कई पहलों के माध्यम से जरूरतमंदों के लिए स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने में भारत की उपलब्धियों को भी साझा करेंगे। भारत महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती मनाने के लिए संयुक्त राष्ट्र में एक कार्यक्रम की मेजबानी करेगा, जो आज की दुनिया में गांधीवादी विचारों और मूल्यों की निरंतर प्रासंगिकता को रेखांकित करेगा। संयुक्त राष्ट्र महासचिव के साथ कई राष्ट्राध्यक्ष और सरकार इस अवसर पर गांधीजी को श्रद्धांजलि अर्पित करेगी और उनके संदेश के महत्व को रेखांकित करेगी। पीएम संयुक्त राष्ट्र आम सभा के हाशिये पर मौजूद दूसरे देशों के नेताओं और संयुक्त राष्ट्र संस्थाओं के साथ द्विपक्षीय बैठकें भी करेंगेपहली बार, भारत प्रशांत द्वीप राज्यों के नेताओं और UNIC के हाशिये पर CARICOM समूह के नेताओं के साथ नेतृत्व स्तर की बातचीत करेगापीएम मोदी और राष्ट्रपति ट्रम्प अपने दो देशों और लोगों के लिए और भी अधिक लाभ लाने के लिए अपने द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा करेंगे। अमेरिका हमारे राष्ट्रीय विकास के लिए एक महत्वपूर्ण भागीदार है, जिसमें शिक्षा, कौशल, अनुसंधान, प्रौद्योगिकी और नवाचार में भागीदारी की समृद्ध संभावनाएं हैं, और आर्थिक विकास और राष्ट्रीय सुरक्षा में भारत के लिए एक उत्साहवर्धक है। साझा मूल्य, अभिसारी रुचियां और पूरक ताकतें दुनिया के सबसे पुराने और सबसे बड़े लोकतंत्रों के बीच प्राकृतिक साझेदारी की नींव प्रदान करती हैं। एक साथ काम करते हुए, हम एक अधिक शांतिपूर्ण, स्थिर, सुरक्षित, स्थायी और समृद्ध दुनिया बनाने में योगदान कर सकते हैं। नरेन्द्र मोदी की यात्रा का न्यूयॉर्क पैन अमेरिका के साथ द्विपक्षीय संबंधों के महत्वपूर्ण तत्वों को भी कवर करेगा। पीएम ब्लूमबर्ग ग्लोबल बिज़नेस फोरम की शुरुआती प्लेनरी को संबोधित करने और अमेरिकी व्यापारिक नेताओं को भारत के आर्थिक विकास और परिवर्तन में अधिक सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए आमंत्रित करने के लिए उत्सुक हैं। पीएम नरेन्द्र मोदी को बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा ग्लोबल गोलकीपर गोल्स अवार्ड 2019 से सम्मानित किया गया है। भारत को विश्वास है कि मोदी की यात्रा अवसरों की एक विश्वसनीय भूमि, एक विश्वसनीय भागीदार और वैश्विक नेता के रूप में पेश करेगी, और अमेरिका के साथ हमारे संबंधों को नई ऊर्जा प्रदान करने में भी मदद करेगी।


झलकियां:



हयूस्टन एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत भारत में अमरीकी राजदूत केन जस्टर ने किया।



पीएम मोदी का यूस्टन एयरपोर्ट पर स्वागत करते अमरीका में भारतीय राजदूत हर्ष श्रींगला।



यूस्टन के मेयर श्री सिल्वेस्टर टर्नर ने सम्मान, एकजुटता और लंबे समय से भारत ह्यूस्टन संबंध के चिह्न के रूप में नरेंद्र मोदी को"The Key to the city' प्रस्तुत की।



प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने हयूस्टन में एक गोलमेज बैठक में शीर्ष ऊर्जा क्षेत्र के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ एक उपयोगी बातचीत की। चर्चा भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच ऊर्जा सुरक्षा के लिए एक साथ काम करने और आपसी निवेश के अवसरों का विस्तार करने पर केंद्रित है।



प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का एन आर जी स्टेडियम में आगमन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प रहे साथ।



50 हज़ार भारतीय व अमरीकी समुदाय के लोगों को हाउडी मोदी कार्यक्रम में सम्बोधित करते पीएम मोदी



ह्यूस्टन टेक्सस के प्रसिद्ध रग्बी ग्राउंड में हाउडी मोदी कार्यक्रम को सम्बोधित करते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी



भारतीय समुदाय के स्वागत समारोह में प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 22 सितंबर को ह्यूस्टन में शाश्वत गाँधी संग्रहालय की आधारशिला रखी



प्रधान मंत्री, श्री नरेंद्र मोदी ने 22 सितंबर, 2019 को अमेरिका के ह्यूस्टन में भारतीय सामुदायिक स्वागत समारोह को संबोधित किया।