भाला फेंक स्पर्धा के फाइनल में अनुरानी, तोड़ा अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड


दोहा। भारत की अनु रानी ने सराहनीय प्रदर्शन करते हुए भाला फेंक स्पर्धा में सोमवार को अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़कर विश्व एथलेटिक्स प्रतियोगिता की भाला फेंक स्पर्धा के फाइनल में जगह बना ली। अनु ने क्वालीफिकेशन राउंड में अपने ग्रुप ए में 57.05 मीटर की थ्रो के साथ शुरुआत की। उन्होंने अगली थ्रो 62.43 मीटर फेंककर 62.34 मीटर का अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया जो इस साल मार्च में उन्होंने पटियाला में फेडरेशन कप में बनाया था। उनकी तीसरी थ्रो 60.50 मीटर की थी। वह अपने ग्रुप में एशियाई खेलों की चैंपियन चीन की लियूशी यिंग (63.48 मीटर) और स्लोवेनिया की रातेज मार्टिना (62.87 मीटर) के बाद तीसरे थान पर रहीं। ग्रुप बी के क्वालीफिकेशन पूरे होने के बाद अनु रानी ने ओवरऑल पांचवें थान पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफाई कियाइस स्पर्धा में क्वालीफिकेशन के लिए 63.50 मीटर का न्यूनतम मापदंड या फिर 12 सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रखा गया था। दोनों ग्रुप के क्वालीफिकेशन पूरे होने के बाद चीन की हुईहुई लियू 67.27 मीटर के साथ सबसे आगे रहीं। अनु रानी के ऊपर तीन अन्य सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 65.29 मीटर, 68.48 मीटर और 62.87 मीटर थे। इस स्पर्धा का फाइनल आज खेला जाएगा। इस बीच अर्चना सुसिन्द्रन महिलाओं की 200 मीटर दौड़ में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन करते हुए अपनी हीट में आठवें और ओवरऑल 40 थान पर रहींअर्चना ने विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई नहीं किया था लेकिन उन्हें अंतर्राष्ट्रीय एथलेटिक्स महासंघ (आईएएएफ) की तरफ से इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का निमंत्रण मिला थाभारतीय एथलीट इन उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पायी और हीट-2 में 23.65 सेकेंड का समय लेकर आठ एथलीटों में आठवें और अंतिमए थान पर रहीं। उन्हें ओवरऑल 40वार थान मिला।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद