ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण


चांदीपुर। ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल, का सोमवार सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर ओडिशा के चांदीपुर परीक्षणर थल से सफल प्रक्षेपण किया गया। इस प्रक्षेपास्त्र में भारतीय प्रोफ शन प्रणाली, एयरफ्रेम, पावर सप्लाई और अन्य प्रमुख स्वदेशी कलपुर्जे लगे हैं। इस मिसाइल को डीआरडीओ और ब्रह्मोस एयरोस्पेस द्वारा संयुक्त रूप से उसकी 290 किलोमीटर की पूर्ण रेंज पर सफलतापूर्वक छोड़ा गया। इस सफल मिशन के साथ ही इस मिसाइल में स्वदेशी सामान के इस्तेमाल से भारत की रक्षा क्षमता और आगे बढ़ी है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इस सफल मिशन के लिए डीआरडीओ, ब्रह्मोस और उद्योगों की टीम को बधाई दी। रक्षा विभाग, अनुसंधान और विकास में सचिव तथा डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ जी सतीश रेड्डी तथा मिसाइल और रणनीतिक प्रणाली के महानिदेशक एमएसआर प्रसाद को भी सफलतापूर्वक प्रक्षेपण के लिए बधाई दी गई।



महानिदेशक (ब्रह्मोस) डॉ सुधीर कुमार मिश्रा, डीआरडीएल निदेशक डॉ दशरथ राम और आईटीआर निदेशक डॉ बी के दास ने प्रक्षेपण थल पर पूरे मिशन के साथ समन्वयन कायम किया और उसे देखा और इस सफलतापूर्वक परीक्षण को भारत की मेक इन इंडिया क्षमता को बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि बताया। भारत और रूस द्वारा संयुक्त रूप से विकसित ब्रह्मोस मिसाइल भारतीय सशस्त्र सेना के तीनों अंग काम में ला रही है।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद