चरखे के माध्यम से महात्मा गांधी ने श्रम की गरिमा को रेखांकित किया: योगी आदित्यनाथ


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी है। अपने बधाई संदेश में उन्होंने कहा कि गांधी जी के विचार आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं जितने वे पहले थे। इन्हें अपनाने से पूरे विश्व में शान्ति और सद्भाव स्थापित होगा, जिसकी आज बहुत आवश्यकता है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सत्य और अहिंसा के माध्यम से उनके नेतृत्व में चला भारतीय स्वाधीनता आन्दोलन विश्व के इतिहास में विलक्षण है। गांधी जी ने अपना पूरा जीवन देश और मानव सेवा में व्यतीत किया। चरखे, खादी और स्वदेशी के माध्यम से उन्होंने स्वावलम्बन और श्रम की गरिमा को रेखांकित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का मानना था कि साफ-सफाई, ईश्वर की भक्ति के बराबर है इसलिए उन्होंने लोगों को स्वच्छता बनाए रखने की शिक्षा दी। वर्तमान सरकार स्वच्छ भारत के उनके स्वप्न को साकार करने के लिए निरन्तर प्रयास कर रही है। इन प्रयासों के चलते पूरे देश में स्वच्छता के सम्बन्ध में हमें काफी सफलता मिली है। स्वच्छता से सम्बन्धित गांधी जी का दर्शन देश की समृद्धि का वास्तविक मार्ग हो सकता है। उनकी शिक्षा का अनुसरण ही उनके प्रति हम सभी की सच्ची श्रद्धांजलि होगी।