एसिड अटैक पीड़िताओं से मिलीं अभिनेत्री महिमा चौधरी


गोरखपुर। स्वैच्छिक संस्था 'ऊर्जा' ने पूर्वांचल के 20 समाजसेवियों को रविवार को अलग-अलग क्षेत्र में किए गए सामाजिक कार्यों के लिए सम्मानित किया। अभिनेत्री महिमा चौधरी ने सभी को सम्मान दिया। 'ऊर्जा' संस्था की तरफ से पहला ऐसा मौका था कि जब ऐसे लोगों को चुना गया जिन्हें किसी तरह का न कोई सम्मान मिला था ना ही कोई पहचानता था। कार्यक्रम में शहर के वरिष्ठ जनों का भी सम्मान किया गया।संस्था की ओर से सबसे पहले गरीब बच्चों को भोजन कराने वाले अभिषेक उपाध्याय को सम्मानित किया गया। प्राथमिक शिक्षा को बेहतर बनाने में अहम योगदान पर एकता अग्रवाल, स्वच्छता व खुले में शौच न करने का अभियान चलाने वाली आसमां परवीन को भी सम्मान मिला।



मिशन पेट की भूख चलाने वाली हेमलता ओझा, महिलाओं व किशोरियों में माहवारी के प्रति जागरूकता के लिए कनकलता त्रिपाठी, स्वच्छता के प्रति जागरूकता के लिए महेश शुक्ला उर्फ झाड़ू बाबा, बांसफोड़ समुदाय को मुख्यधारा में जोड़ने का प्रयास करने के लिए मित्र प्रकाश पांडेय, मलिन बस्ती में असहाय बच्चों को शिक्षित करने के लिए नवनीत कुमार यादव, ग्रो ग्रास अभियान के लिए नितिन जायसवाल, बच्चों कीशिक्षा व सुधार का काम करने के लिए सपना पांडेय, धार्मिक एकता के लिए काम करने पर डॉ सौरभ पांडेय, रोटी का दान मुहिम के लिए सौरभ श्रीवास्तव, तीन तलाक अभियान से मुस्लिम महिलाओं को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए शबनम खातून उर्फ फातिमा बेगम, गरीब बच्चों के लिए हट स्कूल बना मुफ्त शिक्षा देने के लिए शमशाद आलम, पर्यावरण संरक्षण के लिए डॉ शोभित कुमार श्रीवास्तव, पचपन से बचपन की ओर मुहिम के लिए सुनिशा श्रीवास्तव, अस्पतालों में निशुल्क भोजन के लिए सुरेंद्र शर्मा, कच्ची शराब के खिलाफ मुहिम चलाने के लिए तनु शर्मा, ब्लू कमांडो के माध्यम यातायात में सहयोग करने के लिए उदय प्रताप मिश्र को भी सम्मानित किया गया। इससे पहले 'ऊर्जा' संस्थापक एके जायसवाल, एमएमएमयूटी के कुलपति प्रो. एसएन सिंह, पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी, उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष अंजू चौधरी, पूर्व मेयर डॉ. सत्या पांडेेय और पर्यावरणविद् शिराज वजीह ने कार्यक्रम का उद्घाटन किया।


Popular posts from this blog

माध्यमिक विद्यालयों को प्रान्तीयकृत किये जाने के सम्बन्ध में नीति निर्धारण

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री