प्राविधिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत शासकीय सहायता प्राप्त डिग्री स्तरीय अभियंत्रण संस्थाओं के शिक्षकों के वेतनमानों को पुनरीक्षित किए जाने का निर्णय

> हरकोर्ट बटलर प्राविधिक विश्वविद्यालय कानपुर के कुलपतिगण को उनके वेतन 2,10,000 रुपये (नियत) के साथ विशेष भत्ता 5000 रुपये प्रतिमाह इस शर्त के साथ दिया जाएगा कि उनके वेतन पर आने वाला व्ययभार यह विश्वविद्यालय स्वयं वहन करेंगे।


> मंत्रिपरिषद ने प्राविधिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत शासकीय सहायता प्राप्त डिग्री स्तरीय अभियंत्रण संस्थाओं के शिक्षकों को सातवें वेतन आयोग की संस्तुतियों के आधार पर वेतनमानों को पुनरीक्षित किए जाने का निर्णय लिया है।


> पुनरीक्षित वेतनमान दिनांक 01 जनवरी, 2016 से लागू माने जाएंगे।



लखनऊ। भारत सरकार, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, उच्च शिक्षा विभाग, नई दिल्ली के पत्र संख्या-1-7/2015-यू0-II(1) दिनांक 02 नवम्बर, 2017 के प्रस्तर-3(ii) में दी गई व्यवस्था के आधार पर प्राविधिक शिक्षा विभाग के नियंत्रणाधीन प्राविधिक विश्वविद्यालयों यथा-डॉ0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय लखनऊ, मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर तथा हरकोर्ट बटलर प्राविधिक विश्वविद्यालय कानपुर के कुलपतिगण को उनके वेतन 2,10,000 रुपये (नियत) के साथ विशेष भत्ता 5000 रुपये प्रतिमाह इस शर्त के साथ दिया जाएगा कि उनके वेतन पर आने वाला व्ययभार यह विश्वविद्यालय स्वयं वहन करेंगे। भारत सरकार, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, उच्च शिक्षा विभाग, नई दिल्ली के पत्र संख्या-1-37/2016-टी0एस0-II, दिनांक 18 जनवरी, 2019 तथा अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, नई दिल्ली की अधिसूचना संख्या-61-1/आर0आई0एफ0डी0/7वां सी0पी0सी0/2016-17, दिनांक 01 मार्च, 2019 द्वारा प्राविधानित व्यवस्था के अन्तर्गत प्राविधिक शिक्षा विभाग के नियंत्रणाधीन स्वायत्तशासी शासकीय अनुदानित डिग्री अभियंत्रण संस्थान के पूर्णकालिक शिक्षकों को सातवें वेतनमान की संस्तुतियों का लाभ दिया जाना है। शैक्षणिक संस्थानों के शिक्षकों को शासन स्तर से वेतन मद में कतिपय धनराशि उपलब्ध करायी जाती है तथा प्रतिवर्ष वेतन मद में लगभग 10 से 15 प्रतिशत तक वृद्धि की जाती है। शासन स्तर से वेतन मद में दी जाने वाली धनराशि के अतिरिक्त इन संस्थानों द्वारा अपने स्रोतों से होने वाली आय से भी शिक्षकों को वेतन आदि दिया जाएगा। दिनांक 01 जनवरी, 2016 से दिनांक 31 मार्च, 2019 तक की अवधि का शिक्षकों के एरियर का 50 प्रतिशत केन्द्र सरकार द्वारा दिया जाएगा तथा 03 तकनीकी विश्वविद्यालय में कार्यरत कुलपतिगण के वेतन पर आने वाला व्यय इन विश्वविद्यालयों द्वारा स्वयं वहन किया जाएगा। पुनरीक्षित वेतनमान दिनांक 01 जनवरी, 2016 से लागू माने जाएंगे।


Popular posts from this blog

माध्यमिक विद्यालयों को प्रान्तीयकृत किये जाने के सम्बन्ध में नीति निर्धारण

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री