श्री गुरू नानक देवजी की 550वीं जयंती के अवसर पर सुलतानपुर लोधी जाने वाले तीर्थयात्रियों को सेवा प्रदान करेगी सरबत-द-भला एक्सप्रेस

नई दिल्ली। श्री गुरू नानक देवजी की 550वीं जयंती के अवसर पर भारतीय रेल वर्ष भर के समारोह के माध्यम से गुरू नानक देवजी को श्रद्धासुमन अर्पित कर रहा है। विरासत शहर सुलतानपुर लोधी के रेलवे स्टेशन को आधुनिक सुविधाओं के साथ उन्नत बनाया जा रहा है। गुरू नानक देवजी ने सुलतानपुर लोधी में ही ज्ञान प्राप्त किया था। इस सिलसिले में रेल और वाणिज्य तथा उद्योग मंत्री पीयूष गोयल, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, विज्ञान और टेक्नोलॉजी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्षवर्धन, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने गाड़ी संख्या 12037/12038 नई दिल्ली-लुधियाना इंटरसिटी एक्सप्रेस को नई संख्या और नाम (22479/22480 सरबत-द-भला एक्सप्रेस) को शुक्रवार को नई दिल्ली स्टेशन से झंडी दिखाकर रवाना किया गया। यह रेल गाड़ी जालंधर होते हुए लोहियान खास तक जाएगीइस अवसर पर रेल बोर्ड के सदस्य उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक तथा वरिष्ठ रेल अधिकारी उपस्थित थे।



इस अवसर रेल और उद्योग तथा वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि नई टेन श्री गुरू नानक देवजी की 550वीं जयंती (प्रकाश पर्व) के अवसर पर सुलतानपुर लोधी जाने वाले सिख तीर्थयात्रियों को सेवा प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि हमें अपने जीवन में गुरू नानक देवजी की शिक्षाओं का अनुसरण करना चाहिए। यह भारतीय रेल का महत्वपूर्ण कदम है, क्योंकि सुलतानपुर लोधी जाने वाले तीर्थयात्रियों को कनेक्टिविटी प्रदान की जाएगी। 03 अक्तूबर को दूसरी वंदे भारत एक्सप्रेस गाड़ी झंडी दिखाकर रवाना की गई। यह गाड़ी माता वैष्णो देवी जाने वाले तीर्थयात्रियों को कनेक्टिविटी प्रदान करेगी। उन्होंने इस अवसर पर सभी अतिथियों को बधाई दी। खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि मैं पीयूष गोयल की सुलतानपुर लोधी के लिए नई रेल गाड़ी प्रदान करने के लिए आभारी हूं। उन्होंने कहा कि गुरू नानक देवजी ने अपने जीवन के 14 वर्ष यहीं बिताए थे और रेल गाड़ी का नाम सरबत-द-भला है, जिसका अर्थ सभी के लिए भलाई है। रेल गाड़ी का नाम गुरू नानक देवजी की शिक्षा को दर्शाता है। उन्होंने बताया कि रेल मंत्री ने सुलतानपुर लोधी रेलवे स्टेशन को उन्नत बनाने की मंजूरी दी है तथा नांदेड़, पटना साहिब जैसे महत्वपूर्ण सिख धार्मिक स्थलों को सुलतानपुर लोधी से जोड़ा है। 70 वर्षों बाद सिख श्रद्धालुओं की इच्छाएं पूरी हुई हैं।



इस अवसर पर डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि यह पावन अवसर है, क्योंकि नई रेल गाडी राष्ट्रीय राजधानी को सीधे तौर पर सुलतानपुर लोधी से जोड़ेगी। उन्होंने कहा कि सुलतानपुर लोधी जाने वाले तीर्थयात्रियों को सुविधा प्रदान करके भारतीय रेल ने सराहनीय सेवा की है।


ट्रेन परिचयः


गाड़ी संख्या 22479/22480 सरबत-द-भला एक्सप्रेस सवेरे सात बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से रवाना होगी। इस ट्रेन का ठहराव दोनों दिशाओं में शकूर बस्ती, बहादुरगढ़, रोहतक जंक्शन, जींद, नरवाना, तोहाना, जखाल, संगरुर, धुरी, जालंधर सिटी, कपूरथला, सुलतानपुर होगा। यह ट्रेन दोपहर बाद 14:55 बजे लोहियान खास पहुंचेगीवापसी में गाड़ी संख्या 22480 दोपहर बाद 15:35 बजे लोहियान खास से प्रथान करेगी और रात्रि 23:35 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी। यह रेल गाड़ी सप्ताह में पांच दिन यानी रविवार, मंगलवार, बुधवार, गुरूवार और शुक्रवार को चलेगी। इसमें 2 एसी चेयर कार कोच, दूसरी श्रेणी सिटिंग की 6 कोच और 7 सामान्य श्रेणी कोच होंगे।



सुल्तानपुर लोधी रेलवे स्टेशन को 550 वें प्रकाश पर्व के लिए ओवरहॉल किया जा रहा है और रेल मंत्रालय यह सुनिश्चित करने के लिए दृढ़ है कि यह पंजाब का सबसे खूबसूरत स्टेशन बन जाए। शुक्रवार को काम की समीक्षा के दौरान, हरसिमरत कौर बादल ने अधिकारियों को चीजों की गति बढ़ाने और उच्च गुणवत्ता वाले कार्य को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद