जो अच्छा कार्य न करे उसे तत्काल हटा दिया जाए: डी एम

फर्रुखाबाद (का ० उ ० सम्पादन)। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला पोषण समिति की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।  बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि जनपद में 6 बाल विकास परियोजना अधिकारी, 58 सुपरवाइजर, 266 आंगनबाड़ी के पद रिक्त चल रहे हैं।  जिलाधिकारी ने शासन को लिखित रूप से अवगत कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने बैठक में कहा कि जनपद में पुष्टाहार क्रय करने की काफी शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। अगर ऐसा हुआ तोह क्रेता - विक्रेता दोनों के विरुद्ध तत्काल एफआईआर / विभागीय कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। ऐसी आंगनबाड़ी जो कि आंगनबाड़ी केंद्र क्षेत्रान्तर्गत नहीं रह रही है। उनको चिन्हित कर तत्काल बर्खास्त किया जाए। जनपद में कितने बच्चों को लाल श्रेणी से पीली श्रेणी में लाने का कार्य किया गया और कितने नए बच्चे लाल श्रेणी में आए उनका पूर्ण विवरण उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। जनपद में कन्वर्जन्स कार्य अच्छा कराया गया है। जॉबकार्ड के सापेक्ष कितने जॉबकार्ड धारकों को काम मिला है, रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी को समस्त आंगनबाड़ी केंद्रों पर उपलब्धता के अनुसार वजन मशीन खरीद कर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। एनआरसी में रेफेरल बच्चों की स्थिति 100 प्रतिशत होनी चाहिए। सभी बाल विकास परियोजना अधिकारी अच्छा कार्य करें। जो अच्छा कार्य न करे उसे तत्काल हटा दिया जाए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक डीआरडीए व अन्य उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की