रेलवे संचालन के निजीकरण का कोई प्रस्ताव नहीं: पियूष गोयल


नई दिल्ली (का ० उ ० सम्पादन)। रेलवे के संचालन के निजीकरण का कोई प्रस्ताव नहीं है। हालांकि, कुछ ट्रेनों की वाणिज्यिक और बोर्ड सेवाओं को आउटसोर्स करने और निजी खिलाड़ियों को यात्रियों को बेहतर सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से चुनिंदा मार्गों पर ट्रेनों को चलाने के लिए आधुनिक रेक को शामिल करने की अनुमति देने का प्रस्ताव है। ट्रेन संचालन और सुरक्षा प्रमाणन की जिम्मेदारी भारतीय रेलवे के पास है। स्वच्छता, और अन्य सेवाओं में सुधार के लिए स्टेशन की सफाई, वेतन और उपयोग शौचालयों, रिटायरिंग रूम, पार्किंग और प्लेटफार्मों के रखरखाव आदि जैसी कुछ सेवाओं की आवश्यकता के आधार पर किया जा रहा है। रेल और वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी।


Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की