सरकारी धान क्रय केंद्र पर ही धान विक्रय करें किसान बंधु: ज़िलाधिकारी


फर्रुखाबाद (का ० उ ० सम्पादन)। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने कार्यालय विपणन निरीक्षक मोहम्मदाबाद का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने प्रदीप कुमार (एमआई) केंद्र प्रभारी से अब तक हुई धान खरीद की जानकारी ली। प्रदीप कुमार (एम आई) ने बताया कि अबतक 580 कुंटल धान की खरीद की जा चुकी है। जिलाधिकारी ने मौके पर उपस्थित किसानों से वार्ता की। किसानों ने बताया कि विद्युत् आपूर्ति अच्छी न होने के कारण निरंतर मशीन चल नहीं पा रही है। जिससे किसानों को काफी समय तक केंद्र पर इंतज़ार करना पड़ रहा है, जिस कारण सरकारी केंद्र पर धान विक्रय करने में समस्या हो रही है। समस्या के निदान हेतु जनरेटर के माध्यम से निरंतर मशीन चलवाई जाए ताकि अधिक से अधिक किसान अपना धान विक्रय कर सकें। जिलाधिकारी ने जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी को तत्काल समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए। किसानों ने यह भी बताया कि सरकारी धान केंद्र पर केवल मोटा धान ही लिया जाता है।



जिलाधिकारी द्वारा प्रदीप कुमार (एम आई) से जानकारी लेने पर बताया गया कि मिलर्स वाले 67 प्रतिशत रिकवरी मांगते हैं, अन्यथा की दशा में धान रिजेक्ट कर दिया जाता है। इस कारण धान क्रय केंद्र पर मोटा धान ही लिया जा रहा है। जिलाधिकारी ने सरकारी धान  क्रय केंद्र पर आए सभी किसानों का धान खरीदने के निर्देश दिए। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि किसानों को धान विक्रय करने में समस्या हुई तोह तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। जिलाधिकारी द्वारा रजिस्टर चेक करने पर देखा गया कि रजिस्टर 12 नवंबर, 2019 से अपडेट किया गया है।रजिस्टर अपडेट करते समय बीच - बीच में जगह भी छोड़ी गई है। जो कि संदेह जनक है।जिलाधिकारी ने जिला खाद्य एवं  विपणन अधिकारी को तत्काल जांच कर कार्यवाही करने के निर्देह दिए। जिलाधिकारी ने किसानों को सरकारी धान क्रय केंद्र पर ही धान विक्रय करने हेतु जागरूक भी किया। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर उपस्थित रहे।  


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद