सीएम योगी ने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम के दौरान 525 नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद प्रदान कर शुभकामनाएं दी

> मुख्यमंत्री ने जनपद पीलीभीत में 477 करोड़ रु0 की विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। 


> विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किये। 


> शिव गोरखनाथ मंदिर को पर्यटन के रूप में विकसित किया जाएगा : मुख्यमंत्री


> मुख्यमंत्री योगी ने विकासखण्ड बिलसण्डा ग्राम मुडिया नूरानपुर में शिव मंदिर पहुंचकर भगवान शिव के दर्शन कर पूजा-अर्चना की। 



लखनऊ (का ० उ ० सम्पादन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते गुरूवार को जनपद पीलीभीत में 477 करोड़ रुपए की विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया तथा विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किए। उन्होंने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम के दौरान 525 नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद प्रदान कर शुभकामनाएं दी तथा उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज के इस पवित्र मांगलिक समारोह में प्रतिभाग करने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि आज पूरे प्रदेश के विभिन्न जनपदों में 21,000 कन्याओं का सामूहिक विवाह सम्पन्न किया जा रहा है। इस योजना के अन्तर्गत प्रत्येक जोड़े को 51 हजार रुपए धनराशि प्रदान की जाती है। सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 18 मुस्लिम जोड़ों का विवाह सामाजिक व सांस्कृतिक परम्परा एवं रीति-रिवाज के अनुसार सम्पन्न कराया गया है।



मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जनपद पीलीभीत में आम जनमानस की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने हेतु मेडिकल कॉलेज के प्रस्ताव पर कार्यवाही हो रही है। शीघ्र ही जनपद में मेडिकल कॉलेज की सुविधा उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि शिव गोरखनाथ मंदिर को पर्यटन के रूप में विकसित किया जाएगा। प्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' है इसके तहत आज प्रदेश भर में भव्य सामूहिक विवाह कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा बिना किसी भेदभाव के विभिन्न वर्गों के गरीब व जरूतमन्दों को योजनाओं का लाभ प्रदान किया जा रहा है। किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत सीमान्त एवं लघु सीमान्त किसानों को प्रतिवर्ष 6000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने सत्ता में आने पर 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' का नारा दिया था। इसे वास्तविक रूप प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 'मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना' का संचालन किया जा रहा है। इसके अन्तर्गत कन्या का जन्म होने पर उसका रजिस्ट्रेशन कराने पर 2000 रुपए, टीकाकरण पूर्ण कराने पर 1000 रुपए तथा प्रथम कक्षा में प्रवेश लेने पर 2000 रुपए, कक्षा 06 में प्रवेश लेने पर 2000 रुपए, कक्षा 09 में प्रवेश लेने पर 3000 रुपए एवं उच्च कक्षाओं या डिप्लोमा कक्षाओं में प्रवेश लेने पर 5000 रुपए प्रदान किए जा रहे हैं।



योगी जी ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार द्वारा 'बेटा-बेटी' में भेदभाव समाप्त करने हेतु योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इसी क्रम में कन्याओं को अच्छी शिक्षा प्रदान करने तथा प्राथमिक शिक्षा की उच्च गुणवत्ता हेतु सभी विद्यालयों में सी0बी0एस0ई0 की तर्ज पर पाठ्यक्रम का संचालन कराने की योजना बनाई जा रही है। सभी विद्यालयों में बच्चों को नि:शुल्क बैग, पुस्तकें, जूते-मोजे, स्वेटर प्रदान किए जा रहे हैं, जिससे गरीब से गरीब बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान की जा सके। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शिलान्यास किए गए कार्यों में सड़क निर्माण कार्य, पेयजल योजना, राजकीय महाविद्यालय पूरनपुर, आंगनबाडी केन्द्र, छात्रावास, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, गौ संरक्षण केन्द्र सहित विभिन्न विभागों कुल 46 विकास कार्य शामिल हैं। इसके अलावा, लोकार्पित योजनाओं में आसरा योजना के अन्तर्गत आवासों का निर्माण, पेयजल योजना, सड़क निर्माण, स्नातकोत्तर महाविद्यालय बीसलपुर, सी0सी0 रोड निर्माण कार्य, आंगनबाड़ी केन्द्रों का निर्माण, वृहत गौ सरंक्षण केन्द्र नूरपुर, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सहित 42 विकास कार्य सम्मिलित हैं। मुख्यमंत्री योगी ने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण),  प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी), प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, पशुपालन, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, माटीकला प्रशिक्षण/टूलकिट वितरण योजना, खादी ग्रामोद्योग, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना आदि सहित ट्रैक्टर की प्रतीकात्मक चाभी, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के स्वीकृति पत्र प्रदान किए। उन्होंने प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को स्वेटर भी वितरित किए। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री योगी ने विकासखण्ड बिलसण्डा ग्राम मुडिया नूरानपुर में शिव मंदिर पहुंचकर भगवान शिव के दर्शन कर पूजा-अर्चना की। इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद