बकरियां चराने निकले 4 बच्चे खेत के गड्ढे में भरे पानी में डूबे, मौत


मैनपुरी (का उ)। जिले के ​बरनाहल थाना क्षेत्र के ग्राम बीनपुर में रविवार को बकरियां चराने निकले चार बच्चे खेत के गड्ढे में भरे पानी में डूब गए। देर रात तक जब बच्चे घर नहीं पहुंचे तो उनकी तलाश शुरू हुई। खेत के गड्ढे के निकट एक बच्चे की चप्पल मिली तो पानी में उनकी तलाश शुरू कराई गई। जिसके बाद चरों बच्चों का शव पानी से निकाला गया। बच्चों की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। उधर सूचना पाकर कई थानों की फोर्स भी मौके पर पहुंची। ग्राम बीनपुर निवासी 10 वर्षीय सनी, 10 बर्षीय सूरज, 9 वर्षीय मनोज तथा 10 वर्षीय धर्मवीर बकरी चराने के लिए निकले थे। बकरियां घर पहुंचने के बाद भी वे घर नहीं आए तो चिंतित परिजनों ने उनकी आसपास के इलाकों में तलाश शुरू कर दी। खोजबीन के दौरान रात 9 बजे के करीब एक चप्पल दिखी तो पानी में उनकी तलाश की गई। इसके बाद चरों का शव मिला। शव मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। गौरतलब है कि खेत में ईंट पथाई के लिए निकाली गई मिट्टी से बने गड्ढे में पानी भरा हुआ था. पुलिस के मुताबिक चारों बच्चे नहाने के उद्देश्य से पानी में उतरे होंगे और गहराई का अंदाजा न लगने से वे उसमें डूब गए। बच्चों की मौत के बाद उनके परिजनों में कोहराम मच गया। घटना की जानकारी पाकर एसपी अजय कुमार पांडेय, एएसपी ओमप्रकाश सिंह, एसडीएम घिरोर, एसडीएम करहल रतन वर्मा, सीओ कुरावली ददन प्रसाद, सीओ करहल अशोक कुमार कई थानों की पुलिस लेकर मौके पर पहुंच गए।  फ़िलहाल बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जनपद मैनपुरी में खेत के गड्ढे में भरे पानी में 04 बच्चों की डूबने से हुई मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री जी ने दिवंगत आत्मा की शान्ति की कामना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। 


Popular posts
लोक निर्माण विभाग का होगा नया लोगो - केशव प्रसाद मौर्य
Image
आगामी 08 दिसम्बर को प्रस्तावित बन्द के सम्बन्ध में किसान संगठनों के प्रतिनिधियों से वार्ता की जाए : योगी आदित्यनाथ 
केरल की जीवन रेखा एनएच 66 को चौड़ा करने के परिणामस्वरूप अन्य बुनियादी ढांचे का भी विकास होगा
Image
ओंकारेश्वर सरस्वती विद्या निकेतन इण्टर कालेज से इण्टरमीडिएट में रत्नप्रिया व हाईस्कूल परीक्षाफल में सुमित विद्यालय में  प्राप्त किया सर्वोच्च स्थान
Image
कोविड-19 की वर्तमान स्थिति के परिप्रेक्ष्य में आईसीयू बेड्स की संख्या आवश्यकतानुसार बढ़ाई जाए : मुख्यमंत्री
Image