प्रदेश में सोमवार 27 जुलाई को एक दिन में 91,830 सैम्पल की जांच की गयी : एसीएस होम

> धारा 188 के तहत 1,55,463 एफआईआर दर्ज करते हुये 3,25,830 लोगों को नामजद किया गया है : एसीएस होम


> प्रदेश में चेकिंग अभियान के दौरान 53,84,99,282 रुपए का शमन शुल्क वसूल किया गया : एसीएस होम


> कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1,032 लोगों के विरूद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के अन्तर्गत 770 एफआईआर दर्ज किये गये : एसीएस होम



उत्तर प्रदेश सरकार के एसीएस होम अवनीश कुमार अवस्थी 28 जुलाई 2020 को लोक भवन मीडिया सेंटर में प्रेस वार्ता करते हुए।  (फोटो : उ प्र सरकार)


लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने मंगलवार 28 जुलाई 2020 को लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि वृद्धजन, बच्चों, गर्भवती महिलाओं, बीमार तथा कमजोर व्यक्तियों की मेडिकल टेस्टिंग का कार्य प्राथमिकता पर किया जाए। प्रदेश में टेस्टिंग संख्या में लगातार वृद्धि किए जाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा है कि अधिक से अधिक मेडिकल टेस्ट करके कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता हैउन्होंने कहा है कि रैपिड एन्टीजन टेस्ट के द्वारा 1 लाख टेस्ट प्रतिदिन, आर0टी0पी0सी0आर0 के माध्यम से 40 से 45 हजार टेस्ट प्रतिदिन तथा ठूनैट मशीन से 2,500 से 3,000 टेस्ट प्रतिदिन किए जाएं। श्री अवस्थी ने कहा कि मास्क लगाये हर एक, दो गज की दूरी, धोकर बार-बार हाथ रखे क्लीन, इम्युनिटि बढ़ाकर करें वार कोरोना की होगी हार संदेश का अनुपालन तथा व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। श्री अवस्थी ने बताया कि गृह विभाग की धारा 188 के तहत 1,55,463 एफआईआर दर्ज करते हुये 3,25,830 लोगों को नामजद किया गया है। प्रदेश में अब तक 1,07,60,539 वाहनों की सघन चेकिंग में 65,428 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 53,84,99,282 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1,032 लोगों के विरूद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के अन्तर्गत 770 एफआईआर दर्ज किये गये है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 7,071 हॉट स्पॉट के 1049 थानान्तर्गत 11,76,730 मकानों के 69,13,282 लोगों को चिन्हित किया गया है। श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में 91,830 सैम्पल की जांच की गयी। इस प्रकार कोविड-19 की जांच में 20 लाख का आकड़ा पार करते हुए प्रदेश में अब तक 20,33,089 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने कहा कि सभी जनपदों में टेस्टिंग हेतु नियत स्टेटिक बूथ पर जाकर कोई भी व्यक्ति अपनी कोरोना जांच करा सकता है। उन्होंने कहा कि जिन्हें भी किसी भी प्रकार के लक्षण या समस्या महसूस हो तो वे लोग टेस्टिंग सेंटरों पर जा कर अपनी जांच करा सकते हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटे में कोरोना के 3490 नये मामले आये हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 27,934 कोरोना के मामले एक्टिव हैं। अब तक 44,520 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि पूल टेस्ट के अन्तर्गत कुल 2833 पूल की जांच की गयी, जिसमें 2746 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 87 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस की कार्यवाही के अन्तर्गत 1,94,780 सर्विलांस टीम द्वारा 1,40,14,542 घरों के 7,11,09,414 लोगों का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 5006 लोग होम आइसोलेशन में है।