जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव: भाजपा ने स्वप्निल, सपा ने राजू दिवाकर को प्रत्याशी बनाया

 

दैनिक कानपुर उजाला
कानपुर।
जिला पंचायत पद के लिए भाजपा और सपा के प्रत्याशियों ने अपने नामांकन पत्र दाखिल कर दिए। नामांकन से चंद घंटे पहले हुए ऐलान के बाद दोनों प्रत्याशियों ने अपने - अपने पर्चे दाखिल किए। दोनों ही प्रत्याशी अपनी - अपनी जीत के प्रति आश्वस्त दिखाई दिए। भाजपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए दिवंगत कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की बेटी स्वप्निल को प्रत्याशी बना दिया है। इसका ऐलान शनिवार सुबह ही किया। नामांकन कराने के पहले पार्टी दफ्तर नवीन मार्केट में भाजपा के सभी जनप्रतिनिधि, संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी और सांसद एकजुट होकर पहुंचे। भाजपा प्रत्याशी को जिताने की कमान कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने संभाली है। जिला पंचायत के निर्दलीय सदस्यों ने भाजपा प्रतयाशी के समर्थन में मत देने की बात कही। क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष सुनील बजाज, डॉ. वीना आर्या पटेल और कृष्ण मुरारी शुक्ला ने स्वप्निल के जीत का दावा किया है। नामांकन के पहले पार्टी दफ्तर में सांसद सत्यदेव पचौरी, औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार, विधायक सुरेंद्र मैथानी, महेश त्रिवेदी, अरुण पाठक, अभिजीत सिंह सांगा, भगवती प्रसाद सागर, उपेंद्र पासवान, सुरेश अवस्थी, रघुनंदन सिंह भदौरिया मौजूद रहे। सपा ने पेम जिला पंचायत सदस्य राजू दिवाकर को प्रत्याशी घोषित कर दिया। भाजपा के प्रत्याशी घोषणा के बाद सपा की ओर से राजू दिवाकर को प्रत्याशी बनाए जाने की खबर आ गई। राजू दिवाकर काे पहले से उम्मीद थी तो वह नामांकन के लिए कलेक्ट्रेट पहुंच चुके थे। उनके साथ सपा जिलाध्यक्ष राघवेंद्र सिंह, पूर्व विधायक मुनींद्र शुक्ला, पूर्व एम.एल.सी. लाल सिंह तोमर, जिलाध्यक्ष सयुश, अर्पित यादव, जिला महासचिव जितेंद्र कटियार, सपा नेता विजय सचान, पूर्व मंत्री इंद्रजीत कोरी आदि मौजूद रहे। दोपहर में राजू दिवाकर ने सपा नेताओं के डी.एम. कक्ष में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल कर दिया। बता दें कि जिला पंचायत सदस्यों की कुल संख्या 32 है जिनमें से सबसे ज्यादा 12 सीट सपा के खाते में हैं। जबकि भाजपा को 8 सीट मिली हैं। 6 बसपा और 6 निर्दलीय जीते हैं। ऐसे में कानपुर में जिला पंचायत अध्यक्ष पद की लड़ाई काफी रोचक हो चली है।

Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद