एडब्ल्यूएचओ और टाटा रियल्टी इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के बीच समझौता ज्ञापन

> यह 10 शहरों में फैले टाटा रियल्टी पैन इंडिया की परियोजनाओं में थानांतरित होने के लिए तैयार 13 इकाइयों में रहने का मार्ग प्रशस्त करता है। आवास इकाइयाँ 11-27% से लेकर रियायती दरों पर दी जाती हैं।



22 अगस्त 2019 को भारतीय सेना और टाटा रियल्टी एंड हाउसिंग के बीच एक महत्वपूर्ण समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गए। यह समझौता ज्ञापन भारतीय सेना के कर्मियों को तुरंत 11 से 27 प्रतिशत छूट के साथ गुरुग्राम, चेन्नई, बेंगलुरु, पुणे सहित 10 शहरों में फैली टाटा रियल्टी पैन इंडिया की परियोजनाओं में 13 'रेडी टू मूव इन' आवासीय इकाइयों को तुरंत खरीदने में सक्षम बनाएगा। इससे आर्मी वेलफेयर हाउसिंग ऑर्गनाइजेशन (एडब्ल्यूएचओ) के लिए एक नए युग की भी शुरुआत होती है। इसने सेना के उन कर्मियों के लिए गुणवत्तापूर्ण आवास उपलब्ध करने का प्रयास किया है जो देश भर में दूर थर थानों पर तैनात हैं। एडब्ल्यूएचओ अब सैनिकों के लिए घर निर्माण करने के बजाय रियायती दरों पर प्रतिष्ठित निजी बिल्डरों से घरों की खरीददारी करने की सुविधा प्रदान करेगा।