प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत अब कुल 88 लाख से मकानों की मंजूरी

 > 46वें सीएसएमसी में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत 3 लाख मकानों को मंजूरी।



आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव दुर्गाशंकर मिश्र की अध्यक्षता में 46वें सीएसएमसी(केंद्रीय मंजूरी और निगरानी समिति) ने 10 राज्यों से 865 प्रस्तावों को मंजूरी दी। ये प्रस्ताव 2.99 लाख मकान बनाने के संबंध में हैं, जिनमें कुल 15,109 करोड़ रुपये का निवेश होना है। सरकार की प्रतिबद्धता के अनुसार केन्द्रीय सहायता के रूप में 4,482 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। इसका विवरण इस प्रकार है-



उत्तर प्रदेश में 45,770 मकान के निर्माण के लिए 149 प्रस्ताव पेश किए हैं। इस तरह यह संख्या 13.96 लाख मकानों की हो गई है, जो प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत सभी राज्यों केन्द्रशासित प्रदेशों में सबसे अधिक है। आंध्र प्रदेश में सीएसएमसी में हिस्सा नहीं लिया। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत राज्य के लिए 12.48 लाख मकान मंजूर किये गए हैं। महाराष्ट्र ने 1.23 लाख मकानों के निर्माण के लिए 62 प्रस्तावों में हिस्सा लिया, जो सीएसएमसी बैठक में हिस्सा लेने वाले 10 राज्यों में सबसे अधिक है। इन ताजा प्रस्तावों के अलावा राज्य के पास अब कुल 11.20 लाख मकानों की मंजूरी है, जो सभी राज्यों । केन्द्रशासित प्रदेशों में तीसरी सबसे बड़ी संख्या है। उपरोक्त ताजा प्रस्तावों की मंजूरी के साथ प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत कुल स्वीकृत मकानों की संख्या अब 1.12 करोड़ मकानों की मांग के मद्देनजर 88.16 लाख हो गई है


 


Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ0प्र0 सरकारी सेवक (पदोन्नति द्वारा भर्ती के लिए मानदण्ड) (चतुर्थ संशोधन) नियमावली-2019 के प्रख्यापन को मंजूरी

स्वामित्व योजना के कार्यान्वयन के लिए उ प्र आबादी सर्वेक्षण और अभिलेख संक्रिया विनियमावली, 2020 के प्रख्यापन के प्रस्ताव को स्वीकृति