रूस में होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए १० मुक्केबाज़ चयनित


नयी दिल्ली - छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम और विश्व चैंपियनशिप की कांस्य विजेता लवलीना बोगा हेन को बिना ट्रायल खेले रूस में अक्टूबर में होनी विश्व मुक्केबाजी प्रतियोगिता का टिकट मिल गया है। यहां इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में विश्व महिला मुक्केबाजी प्रतियोगिता के लिये तीन दिन के ट्रायल के बाद 10 मुक्केबाजों का चयन किया गया है। ट्रायल में विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता सोनिया चहल और एशियाई चैंपियन पूजा रानी उलटफेर का शिकार हो गयीं। मैरीकॉम को 51 किग्रा वर्ग में और लवलीना को 69 किग्रा वर्ग में पिछले कुछ महीनों के लगातार शानदार प्रदर्शन के कारण बिना ट्रायल खेले ही विश्व चैंपियनशिप का टिकट मिल गया है। 36 वर्षीय मैरीकॉम ने इस साल इंडिया ओपन में स्वर्ण और इंडोनेशिया में दो स्वर्ण पदक जीते थे। मैरी 2012 के लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता रह चुकी हैं। विश्व चैंपियनशिप के लिये चुनी गयी 10 मुक्केबाज़ों में मंजू रानी(48), मैरीकॉम (51), जमुना बोरो (54), नीरज (57), सरिता देवी (60), मंजू बोम्बोरिया (64), लवलीना (69), स्वीटी बूरा(75), नंदिनी (81) और कविता चहल (81 से अधिक) शामिल हैं। 2006 में विश्व चैंपियन रही मणिपुर की सरिता देवी ने विश्व चैंपियनशिप की कांस्य विजेता सिमरनजीत कौर को 60 किग्रा वर्ग में हराया। सरिता ने इस साल एशियाई चैंपियनशिप में अपना आठवां पदक जीता था। हरियाणा की नीरज ने एशियाई चैंपियनशिप की कांस्य विजेता मनीषा मौन को 57 किग्रा वर्ग में पराजित किया। मनीषा ने एक दिन पहले विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता सा निया चहल को पराजित किया था। लेकिन वह नीरज का मुकाबला नहीं कर सकी। 75 किग्रा में एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण विजेता पूजा रानी अपनी श्रेष्ठता साबित नहीं कर सकीं और उन्हें इंडिया ओपन चैंपियन भाग्यवती कचारी से ट्रायल के अपने पहले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। भाग्यवती को फिर स्वीटी बूरा ने हराया और विश्व चैंपियनशिप का टिकट हासिल कर लिया। स्वीटी ने भी ट्रायल में पूजा को हराया था48 किग्रा में मंजू रानी ने मोनिका को, 64 किग्रा में मंजू बोम्बा रिया ने अंकुशिता बोरो को, 54 किग्रा में जमुना बोरो ने शिक्षा को 81 किग्रा में नंदिनी ने लालफकमावी को और कविता चहल ने 81 किग्रा से अधिक में नेहा यादव को पराजित कर 3 से 13 अक्टूबर तक रूस में होने वाली विश्व चैंपियनशिप का टिकट हासिल कर लिया।