विश्वकप के फाइनल में विवादास्पद थ्रो की होगी समीक्षा


लंदन - इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच पिछले महीने खेले गए आईसीसी विश्वकप के फाइनल में विवादास्पद थ्रो की समीक्षा होगी। इंग्लैंड ने सुपर ओवर में विश्वकप जीता था। लेकिन सुपर ओवर से पहले निर्धारित समय के आखिरी ओवर में न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्तिल का थ्रो इंग्लैंड के बेन स्टोक्स के बल्ले से टकरा कर विकेटकीपर के पीछे सीमा रेखा पार गया था। अंपायर कुमार धर्मसेना ने खिलाड़ियों के भागे दो रन को जोड़ते हुए छह रनों का इशारा किया था जबकि थ्रो के समय को देखते हुए खिलाड़ियों को भागकर लिया गया एक ही रन मिलना चाहिए था। धर्मसेना ने भी इस मामले के तूल पकड़ने के बाद फैसले में अपनी गलती को स्वीकार किया था। मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) की विश्व क्रिकेट समिति ने सोमवार को अपनी बैठक के दौरान यह फैसला किया कि इस थ्रो मामले की समीक्षा की जाएगी। इस मामले की सिंतबर में समीक्षा होगीएमसीसी की विश्व समिति ने शेन वार्न और कुमार संगकारा जैसे दिग्गज खिलाड़ी शामिल हैं।