बासमती चावल के निर्यात को बढ़ावा दे रहा है: एपीडा

> एपीडा ने जकार्ता में बहु-उत्पाद रोड शो आयोजित किया।


> एपीडा ने अमेरिका, कनाडा और ग्रीस में क्रेता-विक्रेता बैठक (बीएसएम)' का आयोजन किया।



नई दिल्ली - कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) ने 16 सितम्बर, 2019 को जकार्ता में भारतीय दूतावास के सहयोग से बहु-उत्पाद (मल्टी-प्रोडक्ट) रोड शो आयोजित किया। एपीडा के अध्यक्ष पबन कुमार बोर्थाकुर की अगुवाई में चावल एवं चीनी निर्यातकों के 40 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने जकार्ता का दौरा किया और इंडोनेशिया गणराज्य के व्यापार मंत्री एनगैरतियास्तो लुकिता के साथ बैठक की। एपीडा द्वारा इन उत्पादों के लिए इंडोनेशिया के आयातकों के साथ जकार्ता में भारतीय निर्यातकों की व्यावसायिक (बी2बी) बैठक आयोजित की गई। भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने इंडोनेशिया में सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी बुलॉक इंडोनेशिया, इंडोनेशिया लॉजिस्टिक्स ब्यूरो के साथ भी बैठक की जो खाद्य वितरण एवं मूल्य नियंत्रण से जुड़े कामकाज देखती है। एपीडा आज 18 सितम्बर को इंडोनेशिया के मेदान में एक रोड शो आयोजित करेगा। इस माह के आरंभ में एपीडा ने 7 से 15 सितम्बर, 2019 तक ग्रीस के थेस्सालोनिकी में आयोजित 84वें थेस्सालोनिकी अंतर्राष्ट्रीय मेले (टीआईएफ) में भी भाग लिया था। टीआईएफ में भारत के कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों को प्रदर्शित किया गया था। इस आयोजन का उद्घाटन ग्रीस के प्रधानमंत्री और भारत के वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी द्वारा 7 सितम्बर, 2019 को किया गया था। ग्रीस में भारत के राजदूत भी उद्घाटन समारोह में उपस्थित  थे। थेस्सालोनिकी अंतर्राष्ट्रीय मेले में प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों की एक बड़ी रेंज जैसे कि तैयार (रेडी टू इट) सब्जियों, करी एवं चावल, आम की लुगदी, जैविक उत्पादों, जड़ी-बूटी, नमकीन, मिठाई, चाय तथा मसालों को प्रदर्शित किया गया और इनके नमूने पेश करके तथा स्वाद चखाकर इनका प्रचार-प्रसार किया गया। थेस्सालोनिकी अंतर्राष्ट्रीय मेले में एपीडा द्वारा जम्मू-कश्मीर के अनेक उत्पादों जैसे कि अखरोट, बासमती चावल, पटसन के बीज और मसालों को भी प्रदर्शित एवं प्रोत्साहित किया गया। भारत के पूर्वोत्तर राज्यों के उत्पादों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एपीडा ने अरुणाचल प्रदेश में तैयार की जाने वाली भारतीय कीवी की शराब को पहली बार ग्रीस में पेश किया। ग्रीस के निवासियों ने भारतीय कीवी की शराब को काफी पसंद किया। एपीडा शाकाहारी एवं मांसाहारी भोजन में बासमती चावल की बिरयानी के नमूने पेश कर एवं लोगों को उनके स्वाद से अवगत कराते हुए बासमती चावल के निर्यात को भी बढ़ावा दे रहा है। एपीडा के स्टॉल पर भारतीय चाय और मसालों के नमूने भी पेश किए गए। नमकीन एवं मिठाइयों के साथ भारतीय मसाला चाय के नमूने पेश करने और लोगों को इसका स्वाद चखाने की विशेष व्यवस्था की गई। ग्रीस के कृषि एवं वित्त मंत्री ने भारतीय पवेलियन का मुआयना किया और भारतीय बासमती चावल से तैयार बिरयानी और कीवी शराब का आनंद लिया। एपीडा को विशेषकर भारतीय जैविक उत्पादों, बासमती चावल, कीवी शराब, मसाला चाय और भारतीय नमकीन एवं मिठाइयों के लिए व्यापक सकारात्मक प्रतिक्रिया प्राप्त हुई। भारतीय दूतावास के सहयोग से 20 अगस्त, 2019 को भारत के वाणिज्य दूतावास में क्रेता-विक्रेता बैठक (बीएसएम) आयोजित की गई। प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों सहित कृषि उत्पादों के 23 निर्यातकों ने अमेरिका के संभावित आयातकों के साथ बैठक की। दूसरी क्रेता-विक्रेता बैठक (बीएसएम) भारत-कनाडा वाणिज्य मंडल के कार्यालय में 22 अगस्त, 2019 को आयोजित की गई। कृषि उत्पादों के लगभग 20 निर्यातकों और कनाडा के संभावित आयातकों ने इस क्रेता-विक्रेता बैठक (बीएसएम) में भाग लिया।