भारत के सात पहलवान ग्रीको रोमन मुकाबलों से बाहर


नूर सुल्तान (कजाखस्तान) - भारतीय ग्रीको रोमन पहलवानों का विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में निराशाजनक प्रदर्शन के दूसरे दिन रविवार को भी जारी रहा। भारत के तीन और पहलवान कुछ हासिल किये बिना प्रतियोगिता से बाहर हो गए। मनीष को 67 किग्रा, सुनील कुमार को 87 किग्रा और रवि को 97 किग्रा के ओलम्पिक वर्ग में हार का सामना करना पड़ा। कल गैर ओलम्पिक वर्ग में 55 किग्रा में मंजीत, 63 किग्रा में सागर कुमार, 72 किग्रा में योगेश और 82 किग्रा में एशियाई चैंपियनशिप के रजत विजेता हरप्रीत सिंह बाहर हो गए थे। अब तक ग्रीको रोमन पहलवानों में रवि ने ही कुछ अच्छा प्रदर्शन किया और एक मुकाबला जीता। बाकी पहलवान तो एक भी मुकाबला नहीं जीत पाए। रवि ने 97 किग्रा के पहले राउंड में ताइपे के चेंग हाओ चेन को पहले राउंड में 5-0 से हराया लेकिन प्री क्वार्टरफाइनल में वह चेक गणराज्य के आर्तर ओमारोव से 0-7 से हार गए। ओमारोव के क्वार्टरफाइनल में हार जाने से रवि की रेपचेज में उतरने की उम्मीदें समाप्त हो गयीं और इस वजन में भारत का ओलंपिक कोटा प्राप्त करने का सपना चकनाचूर हो गया67 किग्रा में मनीष को बुल्गारिया के डेविड तिहोमिरोव ने एकतरफा अंदाज में पहले राउंड में ही 10-1 से पीट दिया। डेविड फिर क्वार्टरफाइनल में हार गए और उनकी हार के साथ मनीष भी टूर्नामेंट से बाहर हो गए। पहले तीन मिनट मे बुल्गारिया का पहलवान रक्षात्मक कुश्ती करता नजर आया। परिणामस्वरुपरेफरी ने उन्हें ग्राउंग रेसलिंग पर आने के आदेश दिये जिसका फायदा भारतीय पहलवान मनीष नहीं उठा सके। जब अगले तीन मिनट के दौरान मनीष को रक्षात्मक कुश्ती करने के लिए नीचे लेटाया गया तो डेविड ने इसका पूरा फायदा उठाया और भारतीय पहलवान को पीठ की तरफ डेंजर व थ्रो लगा कर अंकों की बौछार कर दी। डेविड ने मुकाबले में समय समाप्ति से पहले ही तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर जीत दर्ज की । यही थति 87 किग्रा में सुनील कुमार की रही। एशियाई चैंपियनशिप के रजत विजेता सुनील को अमेरिका के जोसफ पैट्रिक ने पहले राउंड में 6-0 से हराया। पैट्रिक फिर प्री क्वार्टरफाइनल में हार गए और उनकी हार के साथ सुनील मुकाबलों से बाहर हो गए। इन तीन पहलवानों की हार के साथ भारत के सात पहलवान ग्रीको रोमन मुकाबलों से बाहर हो चुके हैं।