चौथे टेस्ट में बढ़त बनाने की पूरी कोशिश करेंगी ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की टीमें

> कप्तान जो रूट ने तेज गेंदबाज क्रेग ओवरटन के खेलने की पुष्टि की।


> बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा, जेम्स पैटिनसन को टीम से रखा गया बाहर, स्टीवन स्मिथ को अंतिम 12 में किया गया शामिल।



मैनचेस्टर  - ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच आज से शुरु होने वाले एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट में दोनों टीमों के बीच बढ़त के लिए जबरदस्त मुकाबला होगा। दोनों के बीच यह 350वां टेस्ट होगाऑस्ट्रेलिया ने बर्मिंघम में पहला टेस्ट 251 रन के बड़े अंतर से जीता था और लंदन में दूसरा टेस्ट नाजुक हालात से गुजरते हुए ड्रा करा लिया था। लीड्स में तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के पास जीत के लिए पूरा मौका था जब उसने 359 रन के लक्ष्य का पीछा कर रहे इंग्लैंड के नौ विकेट 286 रन पर गिरा दिए थे। लेकिन बेन स्टोक्स ने नाबाद 135 रन की चमत्कारिक पारी खेलकर इंग्लैंड को एक विकेट से जीत और सीरीज में 1-1 से बराबरी दिला दी थी। एशेज का रोमांच चरम पर पहुंच चुका है और चौथे टेस्ट में दोनों टीमें बढ़त बनाने की पूरी कोशिश करेंगी। ऑस्ट्रेलिया ने इस मुकाबले के लिए नंबर तीन बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को टीम से हटा दिया है जबकि जेम्स पैटिनसन को भी टीम से बाहर रखा गया है। इस मुकाबले में स्टीवन स्मिथ वापसी करेंगे जो गर्दन पर गेंद लगने के कारण तीसरे टेस्ट से बाहर हो गए थे। स्मिथ ने पहले दो टेस्ट में जिन्होंने पहले दो टेस्ट में 144, 142 और 92 रन की पारियां खेली थी। उन्होंने डर्बीशायर के खिलाफ अभ्यास मैच में उतरकर अपनी फिटनेस साबित की थी जिसके बाद उन्हें अंतिम 12 में शामिल किया गया है। ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड के तूफानी गेंदबाज जोफ्रा आर्चर से सतर्क रहना होगा जिन्होंने तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई पारी को छह विकेट लेकर झकझोरा था। हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड को पहली पारी में 67 रन पर समेटा था लेकिन मेजबान ने चौथी पारी में करिश्माई वापसी करते हुए स्टोक्स के दम पर जीत हासिल की थी। दूसरी तरफ इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्राड का मानना है कि टीम तीसरे टेस्ट की लय को इस मैच में भी बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी। ब्राड का कहना है कि मैनचेस्टर में स्मिथ और आर्चर का मुकाबला देखना काफी रोमांचक होगा। स्मिथ को गर्दन में लॉर्ड्स टेस्ट में आर्चर की बाउंडर से चोट लगी थी। क्रिकेट इतिहास के इन दो पुराने प्रतिद्वंद्वियों के बीच यह 350वां मुकाबला होगा। ऑस्ट्रेलिया ने 145 और इंग्लैंड के 109 टेस्ट जीते हैं जबकि दोनों के बीच 95 टेस्ट ड्रा रहे हैं। इंग्लैंड का इस मैदान पर पिछले 17 वर्षों में जबरदस्त रिकॉर्ड रहा है और इस दौरान नौ टेस्ट जीते हैं और दो ड्रा खेले हैं। इंग्लैंड को इस मैदान पर आखिरी हार 2001 में पाकिस्तान से मिली थी जबकि ऑस्ट्रेलिया ने इस मैदान पर अपनी आखिरी जीत 1997 में हासिल की थी। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने तेज गेंदबाज क्रेग ओवरटन की पुष्टि की है जो मैनचेस्टर में चौथे एशेज टेस्ट के लिए क्रिस वोक्स की जगह लेंगेओवरटन का स्मरण ही इंग्लैंड के दस्ते में एकमात्र परिवर्तन है।


 


Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ0प्र0 सरकारी सेवक (पदोन्नति द्वारा भर्ती के लिए मानदण्ड) (चतुर्थ संशोधन) नियमावली-2019 के प्रख्यापन को मंजूरी

स्वामित्व योजना के कार्यान्वयन के लिए उ प्र आबादी सर्वेक्षण और अभिलेख संक्रिया विनियमावली, 2020 के प्रख्यापन के प्रस्ताव को स्वीकृति