कुश्ती जगत के लिए वन-स्टॉप वीडियो एवं न्यूज डेस्टिनेशन होगा रेसलिंग टीवी

> अर्जुन पुरस्कार विजेता पहलवान कृपाशंकर करेंगे सभी मुकाबलों के रिव्यू और एनालसिस



नयी दिल्ली - भारत को सिर्फ और सिर्फ कुश्ती के लिए पहला वीडियो एवं डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म मिलने जा रहा है और इसे रेसलिंग टीवी नाम दिया गया है। यह प्रशंसकों और पूरे कुश्ती जगत के लिए वन-स्टॉप वीडियो एवं न्यूज डेस्टिनेशन होगायह डिजिटल चैनल भारत के प्रीमियर स्पोर्ट्स मार्केटिंग, आईपीआर कम्पनी और यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग के एक्सक्यूसिव मीडिया राइट्स पार्टनर-स्पोर्टी सॉल्यूशंज की देन है। रेसलिंग टीवी के माध्यम से प्रशंसक सभी तरह की जानकारी और लाइव एक्शन का मजा ले सकेंगे। इस प्लेटफॉर्म को डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट रेसलिंगटीवी डॉट इन-नाम दिया गया है। इसे यूडब्ल्यूडब्ल्यूसीनियर वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप 2019 के समय आधिकारिक तौर पर लॉन्च किया जाएगा जिसका आयोजन 14 सितम्बर से कजाकस्तान के नूर सुल्तान में होना है। इस पहल से कुश्ती के खेल की बढ़ती लोकप्रियता को भुनाने का प्रयास किया जाएगा और साथ ही इसके माध्यम से कुश्ती के खेल में पहली बार एक आधिकारिक, एक्सक्लूसिव एवं डेडिकेटेड डिजिटल प्लेटफॉर्म का संयोजन होगा। रेसलिंगटीवी साल के हर दिन 24 गुणा 7 आधार पर काम करेगा और इस दौरान वह 20 दिनों का लाइव स्ट्रीम मुहैया कराएगा। इसके अलावा यह प्लेटफार्म विदेशी पहलवानों के बाउट्स का भी लाइव स्ट्रीम मुहैया कराएगा क्योंकि इसे वर्ल्ड चैम्पियनशिप्स, वर्ल्ड कप्स, कांन्टिनेंटल चैम्पियनशिप्स, रैंकिंग सीरीज और हर तरह के यूडब्ल्यूडब्ल्यू इवेंट्स का मीडिया राइड्स प्राप्त है। ऐसे में जब विश्व चैम्पियनशिप शुरू होने के लिए तैयार है, रेसलिंग टीवी इसे एक बेहतर मौका मानते हुए दुनिया भर के 102 देशों के 1000 से अधिक पहलवानों से जुड़े मुकाबलों का 100 घंटे का लाइव स्ट्रीमिंग पेश करेगा। अर्जुन पुरस्कार विजेता पूर्व राष्ट्रमंडल खेल कांस्य पदक विजेता पहलवान कृपाशंकर को सभी मुकाबलों के रिव्यू और एनालसिस के लिए चुना गया है। यूडब्ल्यूडब्ल्यू के अध्यक्ष नेनाद लालोविच ने इस पहल को लेकर कहा, "हम जानते हैं कि भारत में कुश्ती का स्वरूप काफी बड़ा है और यह बहुत बड़ा बाजार है। यह रेसलिंग टीवी और स्पोर्टी सॉल्यूशंज के साथ हमारी साझेदारी इस खेल को नए स्तर तक लेकर जाएंगे और इसके माध्यम से विश्व चैम्पियनशिप की नई शुरुआत होगी।" स्पोर्टी सॉल्यूशंज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष चड़ा ने कहा. “भारत में कश्ती का बाजार तेजी से पैर पसार रहा है और इस कारण इस खेल में नई सम्भावनाओं की हमेशा तलाश रहती है। रेसलिंग टीवी के माध्यम से फैन्स इस खेल के और करीब आएंगे क्योंकि हम भारत में कुश्ती के खेल के जबरदस्त विकास की उम्मीद कर रहे हैं।" भारतीय कुश्ती महसंघ के अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह ने कहा, “डब्ल्यूएफआई ने भारत में ओलंपिक स्पोर्ट्स में नए ट्रेंड सेट किए हैं और अब रेसलिंग टीवी के माध्यम से हम इस खेल को इसके जुनूनी प्रशंसकों के और करीब लेकर जाएंगे। ये ऐसे फैन्स हैं, जो क्वालिटी कुश्ती एक्शन से महरूम रहे हैं।"