भारत की जनगणना 2021 के लिए राष्ट्रीय प्रशिक्षकों के पहले बैच का प्रशिक्षण शुरू


  • 2021 के दौरान घर-घर जाकर जनगणना करने के लिए 30 लाख गणनाकारों और उनके पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण किया जाएगा।

  • गणनाकारों और पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण जिला स्तर पर जनवरी-फरवरी, 2020 में आयोजित किया जाएगा।



नई दिल्ली। 2021 की जनगणना के लिए राष्ट्रीय प्रशिक्षकों के पहले बैच का प्रशिक्षण सोमवार को राष्ट्रीय सांख्यिकीय प्रणाली प्रशिक्षण अकादमी (एनएसएसटीए) ग्रेटर नोएडा में शुरू हुआ। अतिरिक्त आरजीआई श्री संजय ने प्रशिक्षण सत्र का उद्घाटन किया। यह प्रशिक्षण 14 अक्टूबर 2019 से 25 अक्टूबर 2019 तक चलेगा। भारत के महापंजीयक और जनगणना आयुक्त विवेक जोशी प्रशिक्षण के दौरान प्रतिभागियों को संबोधित करेंगे और बातचीत करेंगे। शीर्ष स्तर पर 100 राष्ट्रीय प्रशिक्षक होंगे। राष्ट्रीय प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण अक्टूबर, 2019 के तीसरे से पांचवें सप्ताह तक चलेगा। इसका आयोजन एनएसएसटीए, ग्रेटर नोएडा और आईएसटीएम, नई दिल्ली में होगा। जनगणना 2021 के लिए लगभग 1800 प्रमुख प्रशिक्षक तैनात किए जाएंगे, जो फील्ड प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण देंगे। इन प्रमुख प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण देश भर के 20 एटीआई (एडवांस्ड ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट) में नवंबर-दिसंबर, 2019 में आयोजित किया जाएगा। इसके बाद वे फील्ड प्रशिक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे। लगभग 44,000 फील्ड प्रशिक्षकों को गणनाकारों और पर्यवेक्षकों जैसे फील्ड अधिकारियों को प्रशिक्षण देने के लिए तैयार किया जाएगा। इनका प्रशिक्षण जिला स्तर पर जनवरी-फरवरी, 2020 में आयोजित किया जाएगा। वे मार्च-जून, 2020 में उप-जिला स्तर पर लगभग 30 लाख गणनाकारों और उनके पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे।


Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की