लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती पर सभी जनपदों में “रन फॉर यूनिटी' का आयोजन आज

> सरदार पटेल की जयन्ती पर उनकी फोटो और संदेश सभी पुलिस थानों, पुलिस लाइन सहित समस्त पुलिस कार्यालयों में प्रदर्शित किया जाएगा।


>सभी जनपदों में सायंकाल 05:00 बजे सार्वजनिक स्थान/मार्ग पर राज्य पुलिस सहित अन्य वर्दीधारी बलों एवं एजेन्सियों के द्वारा मार्चपास्ट।


>लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल का जन्मदिवस शासन द्वारा 'राष्ट्रीय अखण्डता दिवस' के रूप में मनाया जाता है।



लखनऊ। लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती पर आज 31 अक्टूबर को प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित सभी जनपदों में 'रन फॉर यूनिटी' कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 31 अक्टूबर, 2019 को प्रातः 08:45 बजे लखनऊ में जी0पी0ओ0, हजरतगंज स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा पर आयोजित एक कार्यक्रम में 'रन फॉर यूनिटी' दौड़ को रवाना करेंगे। 'रन फॉर यूनिटी' सरदार पटेल की मूर्ति से के0डी0 सिंह बाबू स्टेडियम तक आयोजित की जाएगी। इसके पूर्व, मुख्यमंत्री प्रातः 08:30 बजे सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे। सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती पर प्रदेश में आयोजित होने वाले विविध कार्यक्रमों के सम्बन्ध में अपर मुख्य गृह, अवनीश कुमार अवस्थी ने समस्त जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को एक परिपत्र के माध्यम से विस्तृत निर्देश दिये हैं। लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल का जन्मदिवस शासन द्वारा 'राष्ट्रीय अखण्डता दिवस' के रूप में मनाया जाता है। अपर मुख्य सचिव, गृह के परिपत्र के अनुसार सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती पर उनकी फोटो और संदेश को प्रत्येक जनपद के सभी पुलिस थानों, पुलिस लाइनों एवं समस्त पुलिस कार्यालयों में प्रदर्शित किया जाएगा, ताकि आमजन और पुलिस कार्मिकों को प्रेरणा मिल सके। 31 अक्टूबर को पूर्वान्ह 11:00 बजे प्रत्येक थाना, पुलिस लाइन सहित सभी पुलिस कार्यालयों में एकता दिवस शपथ ग्रहण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। लखनऊ में प्रातः 08:45 बजे 'रन फॉर यूनिटी' कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। शेष सभी जनपदों में प्रातः 08:00 बजे से जिलाधिकारी/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा 'रन फॉर यूनिटी' कार्यक्रम आयोजित कराया जाएगा। अपर मुख्य सचिव गृह ने इस कार्यक्रम में व्यापक जनसहयोग लिये जाने की अपेक्षा की है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों, स्कूली छात्रों, खिलाड़ियों एवं पुलिस बल के जवानों को इस आयोजन में सम्मिलित होने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। सभी जनपदों में सायंकाल 05:00 बजे सार्वजनिक स्थान/मार्ग पर राज्य पुलिस सहित अन्य वर्दीधारी बलों एवं एजेन्सियों के द्वारा मार्चपास्ट का व्यापक स्तर पर आयोजन भी सुनिश्चित कराया जाए।


Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की