आईआईटी कानपुर दिव्यांग प्रकोष्ठ द्वारा निशुल्क निदान और परामर्श स्वास्थ्य शिविर आयोजित


कानपुर (का ० उ ० सम्पादन)। स्वास्थ्य केंद्र आईआईटी कानपुर में शनिवार को दिव्यांग प्रकोष्ठ द्वारा एलिम्को (आर्टिफिशियल लिम्ब्स मैन्युफैक्चरिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया) के सहयोग से आईआईटी कानपुर एलुमनाई एसोसिएशन की मदद से 1980 के बैच ने अलग-अलग तरह के दिव्यांगों के लिए निशुल्क निदान और परामर्श स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया। यह शिविर मुख्यतः संस्थान के छात्र, संकाय, कर्मचारी, श्रमिक, अनुबंध कर्मचारियों उनके परिवार (माता-पिता, बच्चे, पति या पत्नी) जो जरूरतमंद हैं के लिए आयोजित किया गया लेकिन मदद के लिए सेवाओं से संपर्क करने के लिए पर्याप्त जागरूक नहीं हैं। 1 फरवरी 2020, शनिवार को संपन्न होने वाला शिविर दो चरणों में आयोजित किया गया, पहले चरण में मूल्यांकन के लिए लोगों का परीक्षण किया गया। 50 से अधिक लोगों की चिकित्सकीय जांच की गई। दूसरे चरण में आवश्यक उपकरण प्रदान करने के लिए उनके अक्षम भाग का माप शामिल था। आईआईटी कानपुर में छात्रों/कर्मचारियों/ संकाय सहित कई और अलग-अलग विकलांग लोगों को आयोजित स्वास्थ्य शिविर से लाभ हुआ। यह कार्यक्रम, आईआईटी कानपुर कैंपस में पहला कार्यक्रम है, कार्यक्रम में एलिम्को टीम से डॉ श्रीकांत पांडे, डॉ देबराती पॉल और डॉ ओमजी द्विवेदी के साथ संस्थान के निदेशक प्रो अभय करंदीकर, डॉ ममता व्यास (सीएमओ) , प्रो जयंत कुमार सिंह, डीन ऑफ़ रिसोर्स एंड एलुमनाई (डीओआरए), प्रो सुधीर काम्बले, प्रो अनुभा गोयल, सत्यम गुप्ता, रितिका, साक्षी गुलाटी और दिव्यांग प्रकोष्ठ के सभी सदस्य मौजूद रहे। कार्यक्रम में कर्नल अशोक मोर भी उपस्थित थे, जिन्होंने सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सामान्य सुविधाओं के बारे में उपस्थित लोगों को अवगत कराया।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की