23 बस स्टेशनों को पीपीपी मॉडल पर विकसित करने के प्रस्ताव में 2 प्रयागराज के

卐 आधुनिकीकरण होने से बस यात्रियों को होगी सुविधा: सिद्धार्थ नाथ सिंह 

卐 प्रयागराज की पावन धरती पर आने वाले पर्यटक लाभ उठा सकेंगे।


प्रयागराज, 13 मार्च 2020। कैबिनेट मंत्री के मीडिया प्रभारी दिनेश तिवारी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया कि उ प्र सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम, निवेश व निर्यात, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम, हथकरघा, वस्त्र उद्योग एवं एनआरआई विभाग सिद्धार्थ नाथ सिंह के अथक प्रयासों से प्रयागराज में 2 बस स्टेशनों का आधुनिकीकरण कर विकसित करने का फैसला हुआ है। प्रयागराज में आधुनिक बस स्टेशन स्वीकृत होने से स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को गतिमान करेगा। आज यूपी कैबिनेट की बैठक में उ प्र में स्थित 23 बस स्टेशनों को पीपीपी मॉडल पर विकसित करने का प्रस्ताव पास हुआ। इस सूची में प्रयागराज के दो बस स्टेशन हैं जिन्हें मॉडर्न तौर पर विकसित किया जाएगा। बस स्टेशन को आधुनिकीकरण कर हर आधुनिक सुविधाओं से युक्त विकसित किया जाएगा। जिससे यात्रियों को कोई कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा, आधुनिक सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे। प्रयाग की पावन धरती पर आने वाले पर्यटक लाभ उठा सकेंगे। पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर प्रयागराज के 2 समेत अन्य कई शहरों के बस स्टेशनों का आधुनिकरण किये जाने हेतु कैबिनेट में प्रस्ताव पास हुआ है।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ0प्र0 सरकारी सेवक (पदोन्नति द्वारा भर्ती के लिए मानदण्ड) (चतुर्थ संशोधन) नियमावली-2019 के प्रख्यापन को मंजूरी

स्वामित्व योजना के कार्यान्वयन के लिए उ प्र आबादी सर्वेक्षण और अभिलेख संक्रिया विनियमावली, 2020 के प्रख्यापन के प्रस्ताव को स्वीकृति