उत्कृष्ट एवं प्रभावी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना होना अत्यन्त आवश्यक: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

> मुख्यमंत्री के समक्ष प्रदेश के 16 असेवित जनपदों में पीपीपी मोड के तहत मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण।


> जिला चिकित्सालयों को उच्चीकृत कर मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जाएगी: मुख्यमंत्री


लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य सरकार जनता को प्रदेश के प्रत्येक जनपद में उत्कृष्ट एवं प्रभावी चिकित्सीय और स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कृतसंकल्पित है। इसके दृष्टिगत जनपदों में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना होना अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक क्षेत्र में चिकित्सा शिक्षा, कुशल चिकित्सक एवं चिकित्सा कमियों की उपलब्धता के लिए आधारभूत सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। इससे आने वाले समय में जनता को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध हो सकेंगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को यहां लोक भवन में प्रदेश के असेवित 16 जनपदों में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) के तहत मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण के अवसर पर अधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे। इन असेवित जनपदों में रामपुर, बदायूं, बागपत, कासगंज, मैनपुरी, हाथरस, महराजगंज, बलिया, संतकबीरनगर, शामली, चित्रकूट, महोबा, हमीरपुर, मऊ, श्रावस्ती एवं सम्भल शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने इन जनपदों में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के लिए भूमि की व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन जनपदों में जिला चिकित्सालयों को उच्चीकृत कर मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि इन मेडिकल कॉलेजों के लिए भूमि की उपलब्धता और जिला चिकित्सालयों को सम्बद्ध करने की व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा की जाएगी। इन्हें लीज पर सम्बन्धित कन्सेशनर को दिया जाएगा। उन्होंने इन मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के लिए अनुमोदनों एवं स्वीकृतियों के सम्बन्ध में ऑनलाइन प्रक्रिया अपनाए जाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी ने इन मेडिकल कॉलेजों में आयुष्मान भारत योजना, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना सहित केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित अन्य स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ लोगों को उपलब्ध कराए जाने के लिए कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इन मेडिकल कॉलेजों की स्थापना से लोगों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकेंगी। उन्होंने इन जनपदों में मेडिकल कॉलेजों की शीघ्र स्थापना के लिए अधिकारियों को कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव आर के तिवारी, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, प्रमख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आलोक कुमार, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एस पी गोयल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की