विभिन्न प्रदेशों में रह रहे उत्तर प्रदेश के लोगों को किसी असुविधा का सामना न करना पड़े: मुख्यमंत्री

> प्रदेशों में निवास कर रहे उत्तर प्रदेश वासियों की भोजन, निवास से जुड़ी समस्याओं का स्थानीय सरकार व प्रशासन से संवाद कर समाधान कराएंगे नोडल अधिकारी।



लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न राज्यों में कार्यरत उत्तर प्रदेश के मूल निवासी श्रमिकों से लॉकडाउन अवधि में अपनी आजीविका वाले स्थान पर बने रहने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस एक संक्रामक बीमारी है। इसके दृष्टिगत लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों की यात्रा उनके तथा उनके परिवार सहित अन्य सम्बन्धियों तथा गृह जनपद के लोगों की स्वास्थ्य सुरक्षा को जोखिम में डाल सकती है। मुख्यमंत्री ने अन्य राज्यों में निवासरत प्रदेश के श्रमिकों से अनुरोध किया है कि वे भारत सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए अपने निवास के वर्तमान राज्य में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए स्थानीय प्रशासन का सहयोग करें। राज्य सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है कि विभिन्न प्रदेशों में रह रहे उत्तर प्रदेश के लोगों को किसी असुविधा का सामना न करना पड़े। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वार्ता कर उनके राज्यों में प्रदेश के निवासियों को सभी व्यवस्थाएं यथा स्थान उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रदेशों में रह रहे उत्तर प्रदेश वासियों की दिक्कतों का समाधान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा वरिष्ठ प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों की नोडल अधिकारियों के रूप में तैनात किया गया है। यह नोडल अधिकारी सम्बन्धित प्रदेशों में निवास कर रहे उत्तर प्रदेश वासियों की भोजन, निवास जैसी आवश्यक जरूरतों से जुड़ी समस्याओं का स्थानीय राज्य सरकार व प्रशासन से संवाद कर समाधान कराएंगे।


Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की