कृषि उत्पादक संगठन स्वयं भी अपनी उपज की सीधे बाजार में बिक्री कर सकते हैं

> किसानों को अपनी उपज मण्डी में लाने की बाध्यता नहीं रहेगी।



लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)।केन्द्र सरकार द्वारा (e-NAM) प्रणाली में कुछ नवीन सुविधायें सम्मिलित की गयी हैं जिसके माध्यम से कृषि उत्पादक संगठन (एफपीओ / एफपीसी) स्वयं भी अपनी उपज को सीधे बाजार में बिक्री कर सकते हैं। सचिव, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा इन नई सुविधाओं का उल्लेख करते हुए इसका अधिक से अधिक उपयोग करने की अपेक्षा की गयी है। यह जानकारी देते हुये प्रमुख सचिव, कृषि डॉ देवेश चतुर्वेदी ने बताया कि अब कृषक उत्पादक संगठन अपने सदस्य कृषकों के कृषि एवं उद्यानीकरण य अन्य कृषि आधारित उपज का संग्रहीकरण करते हुए राष्ट्रीय कृषि बाजार (e-NAM) द्वारा सीधे इलेक्ट्रॉनिक विपणन कर सकते हैं। ऐसा करते समय उन्हें अपनी उपज को मण्डी में लाने की बाध्यता नहीं रहेगी व निर्धारित मण्डी शुल्क को वह प्लेटफार्म के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं। प्रमुख सचिव कृषि ने बताया कि विभाग द्वारा प्रोत्साहित किये गये ऐसे कृषि संगठनों को इस सुविधा के बारे में जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश जारी कर दिये गये हैं। इससे वे अधिक से अधिक संख्या में राष्ट्रीय कृषि बाजार (e-NAM) की सुविधा का सीधे उपयोग कर सकेंगे। मण्डी परिषद के अधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है कि वे उनकी पूर्ण सहायता सुनिश्चित करेंगे।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद