प्रयाग नारायण मंदिर में देश को निराशा से दूर करने के लिए रात के अंधेरे में उजाला 

> प्रधानमंत्री जी के आह्वाहन पर अखंड ज्योति से जलाये गये 501 दिये।


कानपुर। कोरोना महामारी के विश्वव्यापी संकट की घड़ी में भारत के स्वस्थ भविष्य के लिए एकजुट होकर रात 9 बजे  9 मिनट तक रात के अंधियारे में दिए, मोमबत्तियां, टार्च व फ्लैशलाइट की रोशनी से शिवाला परिसर ने भी एकता का परिचय दिया।   शिवाला मंदिर के मुख्य भाग की 501 दीयों से रोशनी की गई। यह सभी दिये मंदिर में 159 वर्षों से जल रही अखंड ज्योति से मंदिर के अर्चकों एवं सेवादारों ने जलाये। जिसकी रोशनी से अपना भारत एक बार फिर माहशक्ति की ओर अपनी यात्रा प्रारम्भ  करे। शिवाला मंदिर प्रंगण के निवासियों ने भी अपनी स्वेच्छा से छतों, बालकनियों से ठीक 9 बजे मोमबत्ती, टार्च, फ्लैशलाइट व् दिए जलाकर अपनी एकता की भावनाएं व्यक्त की।


Popular posts from this blog

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने आकाशीय बिजली गिरने की घटना से हुई जनहानि पर गहरा शोक व्यक्त किया