एनबीएफसी के लिए 45,000 करोड़ रुपये की आंशिक क्रेडिट गारंटी योजना 2.0


कम क्रेडिट रेटिंग वाले एनबीएफसी, एचएफसी और एमएफआई को एमएसएमई और व्यक्तियों को नए ऋण देने के लिए तरलता की आवश्यकता होती हैऐसी संस्थाओं के प्राथमिक बॉन्ड जारी करना / कमर्शियल पेपर (बैलेंस शीट की देयता पक्ष) जैसे उधार को कवर करने के लिए मौजूदा पार्शियल क्रेडिट गारंटी स्कीम का विस्तार किये जाने के साथ साथ पहले 20% का नुकसान गारंटर यानी भारत सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। एए पेपर अनरेटेड पेपर सहित और नीचे के पेपर निवेश के लिए पात्र होंगे (कई एमएफआई के लिए प्रासंगिक)इस योजना के परिणामस्वरूप 45,000 करोड़ रुपये की तरलता होगी।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद