छात्रों को बेहतर ढंग से दें ऑनलाइन शिक्षा

शिक्षा प्रक्रिया में रुचि विकसित करना ही मकसद होना चाहिए : शुभ्रो सेन



कानपुर। एस एन सेन बालिका पीजी कालेज में गुरुवार 13 अगस्त को फैकल्टी डेवेलपमेंट प्रोग्राम शुरू हुआ। 7 दिवसीय इस ऑनलाइन आयोजन का पहले दिन आरम्भ ज़ूम ऐप पर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ निशा अग्रवाल ने किया। आईसीटी टूल्स इन ऑनलाइन टीचिंग एण्ड एसेसमेंट विषय पर हुए इस वेबिनार में ऑनलाइन शिक्षा छात्रों को बेहतर ढंग से कैसे दी जाए, शिक्षकों को यह बताया गया। प्राचार्या डॉ निशा अग्रवाल ने मुख्य अतिथि शुभ्रो सेन , रिसोर्स  पर्सन्स गौरव रॉय एवं प्रतिभागियों का स्वागत किया। प्राचार्या के मुताबिक गूगल से ई कंटेंट के साथ एजुकेशन का मैटीरियल  तैयार करके उसे लिंक के माध्यम से छात्रों तक पहुँचाये । इस दौरान शिक्षिकाओं का भी कांसेप्ट क्लियर होना चाहिए तभी छात्राओं को बेहतर ढंग से शिक्षा ग्रहण कराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन वर्तमान समय की आवश्यकता हैं और इसी तरीके से शिक्षकों और विद्यार्थियों को ऑनलाइन शिक्षा के लिए प्रशिक्षित किया जा सकता है। मुख्य अतिथि शुभ्रो सेन ने कार्यक्रम की सफलता के लिए शुभकामनाएँ देने के साथ ही उम्मीद जताई कि यह फैकल्टी डेवेलपमेंट प्रोग्राम इस दिशा में सहायक और सफल सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि शिक्षण की गुणवत्ता को प्रभावकारी बनाने के साथ-साथ विद्यार्थियों की शिक्षा प्रक्रिया में रुचि विकसित करना ही मकसद होना चाहिए। इस मौके पर पूरे प्रदेश के शिक्षक और विद्यार्थियों ने फैकल्टी डेवेलपमेंट प्रोग्राम में प्रतिभाग किया। कार्यक्रम संयोजिका डॉ चित्रा सिंह तोमर ने इस प्रारंभिक सत्र का संचालन किया। इस दौरान फैकल्टी डेवेलपमेंट प्रोग्राम में संयोजन समिति की सदस्या कु ऋचा सिंह, डाॅ निशा सिंह उपस्थित रहीं।


Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की