मुख्यमंत्री ने रक्षाबंधन पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दीं

> रक्षा बन्धन के अवसर पर कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन किया जाए: मुख्यमंत्री



लखनऊ (सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने रक्षाबंधन पर प्रदेश वासियों को शुभकामनाएं दी हैं। यहाँ जारी एक बधाई सन्देश में मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि रक्षाबंधन भाई - बहन के पारस्परिक प्रेम, स्नेह व विश्वास का त्यौहार है। यह पर्व कर्तव्य, आत्मीयता, त्याग, सामाजिक एकता व सद्भाव की भावना का प्रतीक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि रक्षा बन्धन के अवसर पर कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन किया जाए। कोई भी सार्वजनिक आयोजन न किया जाए। पर्व के सभी अनुष्ठान घर पर ही रहकर किए जाएं। ज्ञातव्य है कि रक्षाबंधन भाई - बहन के प्रेम का प्रतीक पर्व तो है ही, यह भारत की गुरु-शिष्य परम्परा का त्यौहार भी है। यह दान के महत्व को प्रतिष्ठित करने वाला पावन त्यौहार है। रक्षाबंधन का त्यौहार श्रावण पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। श्रावण मास में ऋषिगण आश्रम में रहकर अध्ययन और यज्ञ करते थे। श्रावण पूर्णिमा को मासिक यज्ञ की पूर्णाहुति होती थी। यज्ञ की समाप्ति पर यजमानों और शिष्यों को रक्षासूत्र बांधने की प्रथा थी, जिसका पालन रक्षाबंधन के रूप में भी किया जाता है। रक्षाबंधन का त्यौहार समाज में प्रेम और भाईचारा बढ़ाने का कार्य भी करता है।


Popular posts from this blog

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

माध्यमिक विद्यालयों को प्रान्तीयकृत किये जाने के सम्बन्ध में नीति निर्धारण

रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रभावी रखा जाए : मुख्यमंत्री