अब तक कुल 1,00,109 लोगों ने ई-संजीवनी पोर्टल से चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया : अमित मोहन प्रसाद

ई-संजीवनी पोर्टल पर चिकित्सकीय परामर्श लेने वाला उत्तर प्रदेश देश में दूसरा राज्य बना


> चेकिंग अभियान के दौरान 85,58,58,820 रुपए का शमन शुल्क वसूल किया गया : अवनीश कुमार अवस्थी


> इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाईन किये गये लोगों की संख्या 32,383 है : अवनीश कुमार अवस्थी


> निर्माण कार्यों से जुड़े 17.14 लाख श्रमिकों को द्वितीय किश्त का भी भुगतान किया जा चुका है : अवनीश कुमार अवस्थी


> शुक्रवार 25 सितम्बर 2020 को 7080 बसों के माध्यम से 9,98,000 लोगों ने यात्रा की : अवनीश कुमार अवस्थी


> शुक्रवार 25 सितम्बर 2020 को 205 ट्रेनों के माध्यम से 73,000 लोगों ने यात्रा की : अवनीश कुमार अवस्थी


> प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत अब बढ़कर 83.64 है : अमित मोहन प्रसाद


> अब तक कुल 2,03,246 होम आइसोलेशन में से 1,73,980 लोग होम आइसोलेश की अवधि पूर्ण कर चुके हैं : अमित मोहन प्रसाद


> प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,21,693 क्षेत्रों में 3,83,567 सर्विलांस टीमों के माध्यम से 2,51,25,977 घरों के 12,46,72,537 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है : अमित मोहन प्रसाद



उत्तर प्रदेश के एसीएस होम व इन्फो अवनीश कुमार अवस्थी और एसीएस हेल्थ अमित मोहन प्रसाद 26 सितम्बर 2020 को लोक भवन में प्रेस वार्ता करते हुए। (फोटो : उ प्र सरकार)


लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने शनिवार 26 सितम्बर 2020 को लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 की पॉजिटिविटी की दर में आई उल्लेखनीय कमी पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा है कि यह एक अच्छा संकेत है, जो सिद्ध करता है कि संक्रमण को नियंत्रित करने में प्रदेश सरकार की रणनीति कारगर सिद्ध हो रही है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने प्रत्येक दिन 50 हजार से अधिक होने वाली आरटी पीसीआर टेस्टिंग को और अधिक बढ़ाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने 30 सितम्बर तक 01 करोड़ से अधिक कोविड-19 की टेस्टिंग क्षमता को प्राप्त करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि 30 सितम्बर को ही मुख्यमंत्री जी द्वारा नये कैंसर हॉस्पिटल के उद्घाटन का कार्य प्रस्तावित है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर सभी विकास कार्य निर्धारित समय पर हो रहे हैं तथा पूरे देश में यूपी के कार्यों की सराहना की जा रही है। उन्होंने कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में टीम भावना के साथ प्रभावी कार्यवाही किए जाने पर बल देते हुए कहा है कि बेहतर समन्वय से इस महामारी के प्रकोप को नियंत्रित किया जा सकता है। श्री अवस्थी ने बताया कि गृह विभाग द्वारा धारा-188 के तहत 2,30,165 एफआईआर दर्ज करते हुये 4,34,341 लोगों को नामजद किया गया है। प्रदेश में अब तक 1,64,24,369 वाहनों की सघन चेकिंग में 74,238 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 85,58,58,820 रुपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। आवश्यक सेवाओं हेतु कुल 4,39,335 वाहनों के परमिट जारी किये गये हैं। कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1252 लोगों के खिलाफ 926 एफआईआर दर्ज करते हुए 447 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 18,510 कन्टेनमेंट जोन के 1,195 थानान्तर्गत, 13,53,075 मकानों के 75,27,628 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन कन्टेनमेंट जोन में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 48,997 है। इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाईन किये गये लोगों की संख्या 32,383 है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में हॉटस्पॉट वाले बस्तियों की अनुमानित जनसंख्या 91,61,660 के सापेक्ष 15,634 डोर स्टेप डिलिवरी मिल्क बूथ अथवा डिलीवरी मैन के द्वारा दूध वितरित किया गया है। डोर स्टेप डिलिवरी फल, सब्जी आदि कुल 19,370 वाहन लगाये गये हैं। उन्होंने बताया कि डोर स्टेप डिलिवरी वाले प्रोविजन स्टोर की संख्या 17,176 है। प्रोविजन स्टोर के माध्यम से डिलिवरी करने वालों की संख्या 16,716 है। उन्होंने बताया कि हॉट स्पॉट क्षेत्रों में कुल 03 प्रचलित सामुदायिक किचन हैं। इन बस्तियों में 14,08,769 राशन कार्डों पर खाद्यान्न वितरण किया गया है। उन्होंने बताया कि निर्माण कार्यों से जुड़े 18.25 लाख श्रमिकों, नगरीय क्षेत्र के 8.91 लाख श्रमिकों तथा ग्रामीण क्षेत्रों के 6.74 लाख निराश्रित व्यक्तियों को रु 1,000 – 1,000/- के आधार पर कुल 33.90 लाख लोगों को 339.05 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है। उन्होंने बताया कि निर्माण कार्यों से जुड़े 17.14 लाख श्रमिकों को द्वितीय किश्त का भी भुगतान किया जा चुका है। प्रदेश की पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेन्ट एवं मास्क सहित कुल 97 इकाईयां क्रियाशील हैं। प्रदेश में 1127 फ्लोर मिल, 503 तेल मिल एवं 357 दाल मिल संचालित की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि परिवहन विभाग द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार शुक्रवार 25 सितम्बर 2020 को 7080 बसों के माध्यम से 9,98,000 लोगों ने यात्रा की। हवाई जहाज से 1906 लोगों ने तथा 205 ट्रेनों के माध्यम से 73,000 लोगों ने यात्रा की। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में शुक्रवार 25 सितम्बर 2020 को एक दिन में कुल 1,56,828 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 94,67,186 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के संक्रमित 4412 नये मामले आये हैं। प्रदेश में अब तक कुल 3,20,232 लोग पूर्णतया उपचारित होकर डिस्चार्ज किये गये। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 6546 लोग उपचारित हुए। प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत अब बढ़कर 83.64 है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 57,086 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। उन्होंने बताया कि होम आइसोलेशन में 29,266 लोग हैं, जिसमें से अब तक कुल 2,03,246 होम आइसोलेशन में से 1,73,980 लोग होम आइसोलेश की अवधि पूर्ण कर चुके हैं। श्री प्रसाद ने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 3629 लोग तथा सेमी पेड एल-1 प्लस में 145 लोग ईलाज करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पूल टेस्ट के अन्तर्गत कल 2477 पूल की जांच की गयी, जिसमें 2063 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 414 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,21,693 क्षेत्रों में 3,83,567 सर्विलांस टीमों के माध्यम से 2,51,25,977 घरों के 12,46,72,537 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि 24 सितम्बर को प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में 6,745 बच्चों का जन्म हुआ है। जिनमें से 6,527 नॉर्मल डिलीवरी, 218 सिजेरियन डिलीवरी हुयी है। उन्होंने बताया कि कल ई - संजीवनी पोर्टल के माध्यम से 2253 लोगों ने चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया। अब तक कुल 1,00,109 लोगों ने ई-संजीवनी पोर्टल से चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया। उन्होंने बताया कि ई-संजीवनी पोर्टल पर चिकित्सकीय परामर्श लेने वाला उत्तर प्रदेश देश में दूसरा राज्य बना।