रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने रोमांचक मुकाबले में मुंबई इंडियंस को सुपर ओवर में हराया

> बेंगलुरु की पारी में पडिकल और फिंच ने नौ ओवर में 81 रन की जबरदस्त ओपनिंग साझेदारी की।


> बेंगलुरु के युवा बल्लेबाज पडिकल ने 40 गेंदों पर 54 रन में पांच चौके और दो छक्के लगाए।


> बेंगलुरु के फिंच ने 35 गेंदों पर 52 रन में सात चौके और एक छक्का लगाया।


> बेंगलुरु के डिविलियर्स ने अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप खेलते हुए मात्र 24 गेंदों पर चार चौके और चार छक्के उड़ाते हुए नाबाद 55 रन ठोक डाले।


> मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा दूसरे ही ओवर में ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर का शिकार बने।


> मुंबई के पोलार्ड ने अपना अर्धशतक 20 गेंदों में दो चौकों और पांच छक्कों की मदद से पूरा किया।


> मुंबई की तरफ से पोलार्ड और ईशान किशन के बीच 100 रन की साझेदारी मात्र 48 गेंदों में पूरी हुई।



ए बी डिविलियर्स बने मैन ऑफ़ द मैच। 


दुबई (वार्ता)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने सांसों को रोक देने वाले बेहद रोमांचक मुकाबले में गत चैंपियन मुंबई इंडियंस को सोमवार को सुपर ओवर में हराकर आईपीएल 13 में अपनी दूसरी जीत दर्ज की और तालिका में सातवें से तीसरे स्थान पर पहुंच गया। बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली ने सुपर ओवर में विजयी रन बनाया। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने ओपनर देवदत्त पडिकल (54), उनके साथी बल्लेबाज आरोन फिंच (52) और एबी डिविलियर्स (नाबाद 55) के शानदार अर्धशतकों तथा शिवम दुबे के तूफानी नाबाद 27 रनों की मदद से 20 ओवर में तीन विकेट पर 201 रन बनाये जबकि मुंबई ने ईशान किशन के 99 और कीरोन पोलार्ड के नाबाद 60 रनों की बदौलत 20 ओवर में पांच विकेट पर 201 रन बनाये। स्कोर टाई हो गया और मैच फैसले के लिए सुपर ओवर में चला गया। यह आईपीएल 13 का दूसरा सुपर ओवर था। मुंबई ने नवदीप सैनी के सुपर ओवर में सात रन बनाये जबकि बेंगलुरु ने जसप्रीत बुमराह के सुपर ओवर में आखिरी गेंद पर रोमांचक जीत हासिल कर ली। बेंगलुरु की तीन मैचों में यह दूसरी जीत है जबकि मुंबई की तीन मैचों में दूसरी हार है। लक्ष्य का पीछा करते हुए मुंबई की शुरुआत खराब रही और उसने सातवें ओवर तक 39 रन तक तीन विकेट गंवा दिए। कप्तान रोहित शर्मा दूसरे ही ओवर में ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर का शिकार बन गए। रोहित ने आठ गेंदों में एक छक्के की मदद से आठ रन बनाये। रोहित का विकेट 14 के स्कोर पर गिरा। इसके दो रन बाद ही सूर्य कुमार यादव को इसुरु उदाना ने विकेटकीपर ए बी डिविलियर्स के हाथों कैच करा दिया। सूर्य का खाता नहीं खुला। ओपनर क्विंटन डी कॉक 15 गेंदों पर एक चौके की मदद से 14 रन बनाकर लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल का शिकार बने। रोहित और डी कॉक के कैच स्थानापन्न खिलाड़ी पवन नेगी ने लपके। सौरभ तिवारी की जगह टीम में लाये गए ईशान किशन ने हार्दिक पांड्या के साथ चौथे विकेट के लिए 39 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी में पांड्या का योगदान मात्र 15 रन का था। पांड्या ने 13 गेंदों में एक छक्का लगाया। पांड्या को लेग स्पिनर एडम जम्पा ने आउट किया। पांड्या का कैच भी नेगी ने लपका। पांड्या का विकेट 78 के स्कोर पर गिरा।
किशन और पांड्या ने विपरीत परिस्थितियों में स्कोर बढ़ाना जारी रखा। रन गति बढ़ रही थी लेकिन वेस्ट इंडीज के कीरोन पोलार्ड ने 17वें ओवर में चहल की गेंदों पर तीन छक्के और एक चौका जड़ते हुए 27 रन बटोरकर मैच को रोमांचक बना डाला। पोलार्ड ने 17वें ओवर में पहली गेंद पर लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल पर छक्का जड़ दिया। किशन ने इस ओवर की चौथी गेंद पर छक्का मारा। अब फासला घटने लगा था। पोलार्ड ने इस ओवर की आखिरी गेंद पर छक्का मारा और अपना अर्धशतक 20 गेंदों में दो चौकों और पांच छक्कों की मदद से पूरा कर लिया। मुंबई को अब आखिरी 12 गेंदों में जीत के लिए 31 रन चाहिए थे। नवदीप सैनी ने 19 वें ओवर में वाइड से शुरुआत की लेकिन अगली चार गेंदों पर चार सिंगल दिए। पांचवीं गेंद फुलटॉस थी और किशन ने सीधे छक्का मार दिया। दोनों बल्लेबाजों के बीच 100 रन की साझेदारी मात्र 48 गेंदों में पूरी हो गयी। अंतिम गेंद पर सिंगल गया और अब मुंबई को आखिरी ओवर में जीत के लिए 19 रन चाहिए थे।
आखिरी ओवर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज इसुरु उदाना के हाथों में था। पहली दो गेंदों पर एक-एक रन गया। तीसरी गेंद फुलटॉस पड़ गयी और किशन का शॉट बॉउंड्री पर फील्डर के हाथों से छिटक कर छक्के के लिए चला गया। किशन ने चौथी गेंद को छक्के के लिए उठा दिया। लेकिन किशन फिर 99 के फेर में फंस गए और बॉउंड्री पर कैच दे बैठे। किशन ने 58 गेंदों पर 99 रन में दो चौके और नौ छक्के लगाए। मुंबई को अब आखिरी गेंद पर जीत के लिए छक्का चाहिए था लेकिन पोलार्ड के बल्ले से चौका निकला और स्कोर टाई हो गया। मैच फैसले के लिए सुपर ओवर में चला गया। पोलार्ड 24 गेंदों में तीन चौकों और पांच छक्कों की मदद से 60 रन बनाकर नाबाद रहे। बेंगलुरु ने सुपर ओवर में जीत अपने नाम कर ली।
इससे पहले बेंगलुरु की पारी में पडिकल और फिंच ने नौ ओवर में 81 रन की जबरदस्त ओपनिंग साझेदारी की। दोनों बल्लेबाजों ने छह ओवर के पॉवरप्ले में 59 रन जोड़े थे। दोनों ओपनरों ने जबरदस्त आत्मविश्वास के साथ टीम को ठोस आधार दिया जिसे डिविलियर्स और शिवम दुबे ने परवान चढ़ाया। हालांकि इस दौरान कप्तान विराट कोहली की खराब फॉर्म जारी रही और वह 11 गेंदों में तीन रन बनाकर आउट हुए। शानदार फॉर्म में खेल रहे युवा बल्लेबाज पडिकल ने 40 गेंदों पर 54 रन में पांच चौके और दो छक्के लगाए। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान फिंच ने 35 गेंदों पर 52 रन में सात चौके और एक छक्का लगाया। मिस्टर 360 डिग्री के नाम से मशहूर डिविलियर्स ने अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप खेलते हुए मात्र 24 गेंदों पर चार चौके और चार छक्के उड़ाते हुए नाबाद 55 रन ठोक डाले। शिवम दुबे ने आखिरी ओवर में तेज गेंदबाज जेम्स पेटिनसन की गेंदों पर तीन छक्के जड़े और बेंगलुरु को 200 के पार पहुंचा दिया। बेंगलुरु ने आखिरी पांच ओवरों में 78 रन जोड़े। डिविलियर्स और दुबे के बीच चौथे विकेट के लिए 47 रन की अविजित साझेदारी मात्र 17 गेंदों में बनी। दुबे 10 गेंदों में एक चौके और तीन छक्कों के सहारे 27 रन बनाकर नाबाद रहे। पेटिनसन के चार ओवरों में 51 रन पड़े जबकि ट्रेंट बोल्ट ने चार ओवर में 34 रन पर दो विकेट लिए। लेग स्पिनर राहुल चाहर को चार ओवर में 31 रन पर एक विकेट मिला। चाहर ने विराट का कीमती विकेट लिया। बोल्ट ने फिंच और पडिकल को आउट किया।


Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद