चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को एकतरफा अंदाज में 10 विकेट से रौंदा 

> चेन्नई की आईपीएल इतिहास में 10 विकेट से यह पहली जीत है।


> शेन वाटसन और फाफ डू प्लेसिस के बीच 181 रन की अविजित ओपनिंग साझेदारी।



शेन वाटसन को मन ऑफ़ द मैच अवार्ड, ड्रीम 11 गेम चेंजर ऑफ़ द मैच अवार्ड व अनअकैडेमी लेट्स क्रैक इट सिक्सेस अवार्ड मिला वहीं फाफ डू प्लेसिस को पावर प्लेयर ऑफ़ द मैच अवार्ड मिला।


दुबई (वार्ता)। फॉर्म में लौटे शेन वाटसन (नाबाद 83) और फॉर्म में चल रहे फाफ डू प्लेसिस (नाबाद 87) के शानदार अर्धशतकों तथा उनके बीच 181 रन की अविजित ओपनिंग साझेदारी की बदौलत चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को रविवार को एकतरफा अंदाज में 10 विकेट से रौंद कर जीत की लय हासिल कर ली। पंजाब ने कप्तान लोकेश राहुल की 63 रन की शानदार अर्धशतकीय पारी से 20 ओवर में चार विकेट पर 178 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन वाटसन और डू प्लेसिस की ओपनिंग साझेदारी ने इस स्कोर को बौना साबित कर दिया। चेन्नई ने 17.4 ओवर में बिना कोई विकेट खोये 181 रन बनाकर आसान जीत अपने नाम कर ली। इस सत्र में किसी भी टीम की 10 विकेट से यह पहली जीत है जबकि चेन्नई की आईपीएल इतिहास में 10 विकेट से यह पहली जीत है। चेन्नई की पांच मैचों में यह दूसरी जीत है और उसके चार अंक हो गए हैं। चेन्नई ने लगातार तीन मैच हारने के बाद जीत हासिल की है और वह आठवें स्थान से छठे नंबर पर पहुंच गयी है। पंजाब को पांच मैचों में चौथी हार का सामना करना पड़ा है और वह आठवें तथा अंतिम स्थान पर खिसक गयी है। वाटसन ने फॉर्म में लौटते हुए 53 गेंदों पर नाबाद 83 रन में 11 चौके और तीन छक्के लगाए जबकि डू प्लेसिस ने 53 गेंदों पर नाबाद 83 रन में 11 चौके और एक छक्का लगाया। दोनों के बीच 181 रन की अविजित साझेदारी चेन्नई के लिए आईपीएल इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले राहुल ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और 52 गेंदों में सात चौकों और एक छक्के की मदद से 63 रन बनाये। मयंक अग्रवाल ने 26, मनदीप सिंह ने 27, निकोलस पूर्ण ने 33, ग्लेन मैक्सवेल ने नाबाद 11 और सरफराज खान ने नाबाद 14 रन का योगदान दिया। मयंक ने 19 गेंदों पर तीन चौके, मनदीप ने 16 गेंदों पर दो छक्के, पूरन ने 17 गेंदों पर एक चौका और तीन छक्के, मैक्सवेल ने सात गेंदों पर एक चौका और सरफराज ने नौ गेंदों पर दो चौके लगाए। चेन्नई की तरफ से शार्दुल ठाकुर ने 39 रन पर दो विकेट लिए जबकि रवींद्र जडेजा और पीयूष चावला को एक एक विकेट मिला। पंजाब ने अपनी टीम में तीन बदलाव किए थे और करुण नायर, कृष्णप्पा गौतम तथा जिमी नीशम की जगह मनदीप सिंह, हरप्रीत बरार और क्रिस जॉर्डन को टीम में शामिल किया था। धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई में कोई बदलाव नहीं हुआ और टीम ने 10 विकेट से धमाकेदार जीत दर्ज की।