मुख्यमंत्री ने नवरात्रि के दौरान पुलिस विभाग द्वारा महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए

> पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से कोविड-19 तथा यातायात सुरक्षा के सम्बन्ध में जानकारी दी जाए : मुख्यमंत्री


> स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन का एक विशेष अभियान चलाया जाए ...


> मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अभियान के दौरान एन्टीलार्वा तथा चूने इत्यादि का छिड़काव सुनिश्चित किया जाए।


> मुख्यमंत्री ने आकाशीय बिजली से होने वाली जनहानि को रोकने के लिए एसएमएस के माध्यम से एलर्ट किए जाने निर्देश दिए।



उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी 7 अक्टूबर 2020 को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुए। (फोटो : मुख्यमंत्री सूचना परिसर)


लखनऊ (सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कोविड-19 के संक्रमण प्रभावी नियंत्रण के लिए अधिक से अधिक कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग का कार्य पूर्ण क्षमता के अनुरूप किया जाए। उन्होंने जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ में विशेष सतर्कता बरते जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इन जनपदों में मुख्य चिकित्सा अधिकारी व जिला प्रशासन से निरन्तर सम्पर्क रखते हुए प्रभावी कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री योगी बुधवार 7 अक्टूबर को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य में कोविड-19 संक्रमण की दर में कमी आयी है, जो अच्छा संकेत है। उन्होंने कोविड-19 के सम्बन्ध में लापरवाही न बरते जाने के लिए लोगों को निरन्तर जागरुक किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड-19 के प्रति पूरी सजगता व सतर्कता बरती जाए। उन्होंने कोविड-19 के प्रति सतत् जागरुकता के लिए रेडियो, टी वी, समाचार पत्र सहित विभिन्न संचार माध्यमों का उपयोग किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से कोविड-19 तथा यातायात सुरक्षा के सम्बन्ध में जानकारी दी जाए। मुख्यमंत्री ने सार्वजनिक स्थानों पर कोविड-19 प्रोटोकॉल और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हर हाल में सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्राम्य विकास तथा नगर विकास विभाग द्वारा स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन का एक विशेष अभियान चलाया जाए। अभियान के दौरान एन्टीलार्वा तथा चूने इत्यादि का छिड़काव सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के प्रति राज्य सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। उन्होंने नवरात्रि के दौरान पुलिस विभाग द्वारा महिलाओं की सुरक्षा व सम्मान की दृष्टि से एक अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि धान क्रय केन्द्रों को पूरी क्षमता और सक्रियता के साथ संचालित किया जाए। उन्होंने आकाशीय बिजली से होने वाली जनहानि को रोकने के लिए एसएमएस के माध्यम से एलर्ट किए जाने निर्देश दिए। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश अवस्थी, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, राहत आयुक्त संजय गोयल, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

कोतवाली में मादा बंदर ने जन्मा बच्चा

मुख्यमंत्री आज होम गार्ड्स स्थापना दिवस के अवसर पर रैतिक परेड में सम्मिलित होंगे

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित