आज अनेक महत्वाकांक्षी, जनोपयोगी व ग्रामोन्मुखी योजनाओं से जनपदों का चहुमुखी और बहुमुखी विकास किया जा रहा है : केशव प्रसाद मौर्य

> उप मुख्यमंत्री ने 7604 लाख रुपये की लागत से 37 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया।
> उप मुख्यमंत्री ने डॉ महादीपक सिंह शाक्य (पूर्व सांसद) के तेरहवीं के शांति पाठ में सम्मिलित होकर श्रद्धांजलि दी।



उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य 22 नवंबर 2020 को जनपद एटा के चौमुखी विकास हेतु लोक निर्माण विभाग की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करते हुए। 


दैनिक कानपुर उजाला


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य जनपद एटा भ्रमण के दौरान रविवार 22 नवंबर को विद्यादीप मार्केट, सराय रोड, अलीगंज में डॉ महादीपक सिंह शाक्य पूर्व सांसद के स्वर्गवास के उपरान्त आयोजित शांति पाठ में सम्मिलित हुए। तदोपरान्त उप मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग गेस्ट हाउस पहुंचकर 6324 लाख रुपये लागत की 28 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं 1280 लाख रुपये लागत की 09 परियोजनाओं का जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में बटन दबाकर लोकार्पण किया। उप मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि जनसामान्य को शासन की मंशानुरूप सुविधाएं दिलाई जाएं, साथ ही केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा संचालित विभिन्न लाभार्थीपरक योजनाओं से समाज के अंतिम व्यक्ति को लाभान्वित किया जाए। इस अवसर पर क्षेत्रीय सांसद राजवीर सिंह राजू भईया, भाजपा जिलाध्यक्ष संदीप जैन, पूर्व मंत्री अवधपाल सिंह यादव, सदर विधायक विपिन वर्मा डेविड, अलीगंज विधायक सत्यपाल सिंह राठौर, मारहरा विधायक वीरेन्द्र सिंह लोधी, जलेसर विधायक संजीव कुमार दिवाकर, कासगंज विधायक देवेन्द्र सिंह राजपूत, अमांपुर विधायक देवेन्द्र प्रताप सिंह, पटियाली विधायक ममतेश शाक्य सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।


Popular posts
मुख्यमंत्री योगी ने मकर संक्रांति और खिचड़ी पर्व पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी
Image
केरल की जीवन रेखा एनएच 66 को चौड़ा करने के परिणामस्वरूप अन्य बुनियादी ढांचे का भी विकास होगा
Image
ऋषिकुल योगपीठ एवं आईएनओ द्वारा ऑनलाइन योगासन स्पोर्ट्स प्रतियोगिता एवं प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम आयोजित
Image
कोविड-19 की वर्तमान स्थिति के परिप्रेक्ष्य में आईसीयू बेड्स की संख्या आवश्यकतानुसार बढ़ाई जाए : मुख्यमंत्री
Image
आगामी 08 दिसम्बर को प्रस्तावित बन्द के सम्बन्ध में किसान संगठनों के प्रतिनिधियों से वार्ता की जाए : योगी आदित्यनाथ