मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के टीकाकरण के सम्बन्ध में सभी तैयारियों को समयबद्ध ढंग से सम्पन्न करने के निर्देश दिए

> कोविड-19 टीकाकरण का कार्य अन्तर्विभागीय समन्वय से संचालित किया जाए: मुख्यमंत्री


> कोविड-19 के टीकाकरण के सम्बन्ध में सभी जनपदों में 15 दिसम्बर, 2020 तक कोल्ड चेन की सुदृढ़ व्यवस्था सुनिश्चित की जाए : मुख्यमंत्री



उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी 23 नवंबर 2020 को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुए। (फोटो : मुख्यमंत्री सूचना परिसर)


दैनिक कानपुर उजाला


लखनऊ।  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कोविड-19 के टीकाकरण के सम्बन्ध में सभी तैयारियों को सुव्यवस्थित एवं समयबद्ध ढंग से सम्पन्न करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 टीकाकरण का कार्य अन्तर्विभागीय समन्वय से संचालित किया जाए। उन्होंने इसके लिए सभी प्रबन्ध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।  
 मुख्यमंत्री जी सोमवार 23 नवंबर को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि कोविड-19 के टीकाकरण के सम्बन्ध में सभी जनपदों में 15 दिसम्बर, 2020 तक कोल्ड चेन की सुदृढ़ व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, जिससे वैक्सीन की गुणवत्ता में कोई कमी न आने पाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के टीकाकरण के लिए प्रदेश की विशाल जनसंख्या को देखते हुए पर्याप्त संख्या में वैक्सीनेटर्स की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए उनके प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाए। मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के बचाव के सम्बन्ध में लोगों को जागरुक किए जाने की कार्यवाही पूरी सक्रियता से जारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मेडिकल टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्य सचिव कार्यालय तथा मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों / पुलिस अधीक्षकों के कार्यालय में लैण्डलाइन फोन के साथ - साथ इन अधिकारियों के सीयूजी फोन पर दूरभाष के माध्यम से सम्पर्क करते हुए कार्यालयों में इनकी उपस्थिति सत्यापित की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध मदिरा बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्यवाही की जाए। इस कार्य में संलिप्त लोगों की सम्पत्ति जब्त कर उसे नीलाम किया जाए तथा नीलामी से प्राप्त धनराशि से प्रभावितों को मुआवजा दिया जाए। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री संदीप सिंह, मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पाद आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव पंचायती राज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, प्रमुख सचिव नगर विकास दीपक कुमार, प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद वीना कुमारी मीना, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।