प्रयाग - लखनऊ रेल खण्ड पर रेल उपरिगामी सेतु निर्माण का व्यय भार सरकार वहन करेगी 


दैनिक कानपुर उजाला


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की अध्यक्षता में मंगलवार को मंत्रिपरिषद द्वारा महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। मंत्रिपरिषद ने जनपद प्रयागराज में उत्तर रेलवे के अन्तर्गत प्रयाग - लखनऊ रेल खण्ड पर प्रयाग स्टेशन से फाफामऊ रेलवे स्टेशन के मध्य रेलवे किमी 149/10-11 पर सम्पार सं0-75ए (तेलियरगंज / मजार से बड़ा बघाड़ा / सलोरी सड़क मार्ग) पर टीवीयू एक लाख से कम होने के कारण रेलवे द्वारा रेल उपरिगामी सेतु के निर्माण की लागत 5280.12 लाख रुपए में सहभागिता न किए जाने के दृष्टिगत दो लेन रेल उपरिगामी सेतु निर्माण की सम्पूर्ण परियोजना का व्यय भार राज्य सरकार द्वारा वहन किए जाने के प्रस्ताव को अनुमोदित कर दिया है। प्रश्नगत रेलवे सम्पार सं0-75ए पर दिनांक 19 सितम्बर, 2020 को करायी गयी गणना अनुसार अद्यतन टीवीयू 79885.69 है। यह एक लाख से कम होने के कारण रेल उपरिगामी सेतु के निर्माण की लागत में रेलवे द्वारा सहभागिता नहीं की जाएगी। इसके दृष्टिगत रेल उपरिगामी सेतु के निर्माण का सम्पूर्ण व्यय भार राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाना होगा। यह रेलवे सम्पार शहरी भाग में है, जो कि प्रयाग स्टेशन से फाफामऊ रेलवे स्टेशन के मध्य उत्तर रेलवे के प्रयाग - लखनऊ रेल खण्ड के प्रयाग स्टेशन से लगभग 300 मी लखनऊ की तरफ मजार चौराहे से बड़ा बघाड़ा मार्ग पर स्थित है।


Popular posts from this blog

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की