हर दिन 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने का लक्ष्य लेकर चलें

 ग्राम वासियों की तमाम भ्रांतियों को दूर कर टीकाकरण कराएं नोडल अधिकारी : जिलाधिकारी

दैनिक कानपुर उजाला 

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने 1 जून से 5 जून 2021 तक कोविड-19 के अंतर्गत चिह्नित ग्रामों में कोविड-19 के प्रतिरक्षण एवं बचाव हेतु ग्राम पंचायतों में वृहद वैक्सीनेशन के आयोजन हेतु नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। नोडल अधिकारियों को आदेश हैं कि अपने आवंटित किए गए ग्रामों में स्वयं उपस्थित होकर कार्यक्रम के अनुसार कोविड-19 वैक्सीनेशन लगवाने हेतु अधिक से अधिक लाभार्थियों को प्रेरित करते हुए वैक्सीनेशन स्थल पर लाभार्थियों की उपस्थिति सुनिश्चित कराएं साथ ही समस्याओं का निवारण भी करेंगे। नोडल अधिकारी वैक्सीनेशन स्थल पर सी.एम.ओ. (फोन नंबर 8005192700), डॉ. नरेंद्र - ए.सी.एम.ओ. (फोन नंबर 9450509093), जिला प्रशासन द्वारा संचालित कंट्रोल रूम नंबर 0515-28207070515 - 2820256 पर संपर्क कर समस्याओं का समाधान करा सकते हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि जिला स्तरीय अधिकारी टीम बनाकर गांव में वैक्सीनेशन कैंप लगाकर या घर घर जाकर वैक्सीनेशन से बचाव की जानकारी देते हुए टीकाकरण कराएं। यह जानकारी शनिवार की देर रात कंट्रोल रूम में गूगल मीट के माध्यम से उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी लोग कोशिश करें कि इस महामारी की रोकथाम हेतु सरकार द्वारा चलाए गए अभियान के तहत 45 वर्ष से अधिक आयु वालों को वैक्सीनेशन किया जाना है।देहात क्षेत्र में तरह - तरह की भ्रांतियों के चलते कहीं - कहीं लोग टीकाकरण कराने में डर रहे हैं, इसे देखते हेतु गांव के प्रधान, ग्राम सचिव, आशा, लेखपाल सभी घर - घर जाकर भ्रांतियों को दूर कर टीकाकरण कराएं। जिलाधिकारी ने कहा कि एक दिन पहले गांव में माहौल तैयार किया जाए, प्लानिंग कर कार्य को सुचारु रुप से आगे बढ़ायें। "गांवों - कस्बों से कोरोना को भगाना है, वैक्सीन को लगाना है" का प्रचार करें। पोस्टर, बैनर के माध्यम से भी प्रचार किया जाए। संभव हो तो स्वयं सहायता समूहों को लगाएं इससे कार्य में और बढ़ोत्तरी होगी।निगरानी समिति के सदस्य सक्रियता से टीकाकरण का क्रियान्वयन प्लान बनाकर करें, हर दिन 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने का लक्ष्य लेकर चलें। कहीं किसी तरह की परेशानी आ रही है जो गंभीर हो उसे प्रशासन को अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि इस कार्य में उप जिलाधिकारी अपने - अपने क्षेत्रों में  मॉनिटरिंग करते रहेंगे। जहां कहीं विवाद नजर आए पुलिस व संबंधित थाने का सहयोग लें। बैठक में अपर जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह, ए.डी.एम. न्यायिक राकेश गुप्ता, मुख्य विकास अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक, डी.पी.आर.ओ. समस्त जिला स्तरीय अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, स्वास्थ विभाग के कर्मी आदि लोगों ने प्रतिभाग किया।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की