दिल्ली के डेढ़ लाख से अधिक ऑटो-टैक्सी चालकों में आज से दिए जाएंगे 5000-5000 रुपये

दैनिक कानपुर उजाला
 नई दिल्ली

दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार सोमवार से बड़ी राहत देते हुए एक लाख 56 हजार ऑटो और टैक्सी वालों के खाते में पांच-पांच हजार रुपये डालेगी। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Delhi Transport Minister Kailash Gehlot) ने रविवार को ऑटो व टैक्सी चालकों के साथ ऑनलाइन हुई बैठक में यह भरोसा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि जिन लोगों का पिछले साल किसी कारण से पंजीकरण नहीं हो सका था और उन्हें राशि नहीं मिल सकी थी, ऐसे चालक मंगलवार से अपना पंजीकरण करा सकेंगे। लॉकडाउन के चलते दिल्ली सरकार ने ऑटो व टैक्सी चालकों को पांच हजार रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है। आटो टैक्सी चालक इस राशि के इंतजार में हैं। मदद के इंतजार में ऐसे एक लाख 56 हजार ऑटो और टैक्सी चालक हैं। ये वे लोग हैं जिन्हें पिछले साल भी सरकार की ओर से लॉकडाउन में मदद मिली थी। इन लोगों की मदद के लिए ऑटो टैक्सी से जुड़े संगठन मांग भी कर रहे हैं।यहां पर बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के चलते दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने पिछले वर्ष की तरह ऑटो-टैक्सी, ई-रिक्शा मालिक व अन्य छोटे व्यावसायिक वाहनों के परमिट धारकों को पांच हजार रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की थी। इस प्रस्ताव को अब कैबिनेट से मंजूरी भी मिल चुकी है। वे पीएसवी (पब्लिक सर्विस व्हीकल) बैज धारक जिनका बैज और लाइसेंस एक फरवरी 2020 तक मान्य था, वह भी योजना के पात्र हैं। यहां पर बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर ने ज्यादा भीषण कहर बरपाया, जिसके चलते दिल्ली समेत कई राज्यों में कहर बरपाया, जिससे लॉकडाउन तक लगाने का फैसला लेना पड़ा। ऐसे में कारोबार, बाजार और रोजगार प्रभावित हुए और इसका सीधा असर ऑटो-टैक्सी चालकों की कमाई पर पड़ा।

Popular posts from this blog

गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का डीपीआर  तैयार : सीईओ, यूपीडा 

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद