*वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों को मिले मानदेय:- सांसद सत्येदव पचौरी*



 कानपुर। आज उत्तर प्रदेश वित्तविहीन माध्यमिक शिक्षक एसोशिएशन, रामपुरम कानपुर नगर के पदाधिकारियों द्वारा कानपुर नगर सांसद श्री सत्यदेव पचौरी से उनके आवास पर भेंट पर वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों को मानदेय दी जाने की मांग की। एसोशिएशन के अध्यक्ष श्री बी0एल0 पाण्डेय ने ज्ञापन देते हुए सांसद पचौरी से कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण पिछले 1 वर्ष से अधिक समय से बंद या अल्प समय के लिए खुले प्रदेश के लगभग 22000 वित्तविहीन विद्यालयों के लगभग तीन लाख शिक्षक व उनके परिवार पर भारी संकट आ गया है।  शिक्षकों को अपना परिवार पालन-पोषण करना भी मुश्किल हो रहा है। ऐसे समय में सरकार से ही मदद की उम्मीद है। ज्ञापन में वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों व उनके परिवार के भरण-पोषण एवं जीवकोपार्जन हेतु तत्कालीन परिस्थितियों में मानदेय दिए जाने की बात कही गई। सांसद पचौरी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को पत्र लिखकर ज्ञापन में की गई मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने की बात कही। सांसद पचौरी ने कहा कि शिक्षकों को मानदेय जरूर मिलना चाहिए जिससे वह भी इस संकट की घड़ी में अपना व अपने परिवार का जीवनयापन सुचारू रूप से कर सके।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की