विधुत शवदाह ग्रह मे लगे राखो के ढेर का नगर निगम करायेगा भू विर्सजन

दैनिक कानपुर उजाला

कानपुर कोरोना कहर में कई लोगों की मौत हो गयी। कई स्वजन अपनों की अस्थियां और राख ले गए या अस्थि कलश बैंक मे रख गए तो कई लोगों ने अस्थियां और राख वहीं पर छोड़ दी। विद्युत शवदाह गृह और घाटों में अस्थियों व राख का ढेर लगा हुआ है। नगर निगम मोक्ष दिलाने के लिए घाटों के किनार गड्ढे खोदने जा रहा है। इसकी शुरुआत भगवतदास घाट से की गई है। यहां पर गड्ढे खोद दिए गए है इसमें अस्थियों और राख का विधि विधान से भू-विसर्जन किया जाएगा। कोरोना की कहर में तमाम लोग अपनों की अस्थियां और राख छोड़ गए। विद्युत शवदाह गृह के पास ढेर लग गया है। इनको लेने वाला कोई नहीं है। गंगा दूषित न हो इसके लिए कर्मचारियों ने किनारे एकत्र कर दी है। हवा के चलते दिनभर राख उड़ती रहती है। इसको देखते हुए नगर निगम ने घाटों में एकत्र अस्थियों और राख का भू-विसर्जन कराने का फैसला लिया है। इसके तहत मुख्य अभियंता (यांत्रिक) आरके पाल के आदेश पर कर्मचारी मोहम्मद कमरुद्दीन ने भगवतदास घाट में चार फीट गहरे गड्ढे खोदवाए है। इस बाबत युग दधीचि देहदान संस्थान के मनोज सेंगर ने बताया कि अस्थि कलश बैंक में भी अस्थियां एकत्र है। इनको लेने कोई एक माह से नहीं आया है। ऐसी अस्थियों को एकत्र करके नगर निगम के साथ मिलकर गड्ढों में भू-विसर्जन विधि विधान से कराया जाएगा।

Popular posts from this blog

उ प्र सहकारी संग्रह निधि और अमीन तथा अन्य कर्मचारी सेवा (चतुर्थ संशोधन) नियमावली, 2020 प्रख्यापित

जनपद के समस्त विद्यालय कार्य योजना बनाकर जीपीडीपी में अपलोड करते हुए डिमांड भेजें: विजय किरन आनंद

उ प्र शासन ने गृह (गोपन) अनुभाग-3 के 31 मई को जारी निर्देशों को यथा संशोधित करते हुए अनलॉक 2 की गाइडलाइन्स जारी की